सातर में डीएवी स्थापना दिवस यज्ञ हवन का आयोजन



देवघर:सातर रोड स्थित गीता देवी डीएवी पब्लिक स्कूल, भंडारकोला ,देवघर में डीएवी स्थापना दिवस पर राज्य सरकार द्वारा निर्धारित कोविड-19 के नियमों का अनुपालन करते हुए यज्ञ एवं हवन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विद्यालय के संस्कृत शिक्षक मिथिलेश कुमार झा एवं करुणेश कुमार झा की अगुवाई में संयुक्त रूप से वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ यज्ञ- हवन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। विद्यालय के संगीत शिक्षक अभिषेक सूर्य एवं बी के राणा ने कई सुमधुर भजन प्रस्तुत किए। इस अवसर पर विद्यालय के प्राचार्य श्री संजय कुमार मिश्रा ने डीएवी स्थापना दिवस के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि स्वामी दयानंद सरस्वती के विचारों एवं सिद्धांतों के व्यापक प्रचार-प्रसार हेतु पाकिस्तान के लाहौर में 1 जून 1886 में प्रथम डीएवी स्कूल की स्थापना की गई थी जिसके पहले प्राचार्य महात्मा हंसराज थे। इसके पश्चात अप्रैल 1955 में यह  स्कूल लाहौर से चंडीगढ़ में शिफ्ट किया गया । आज यह शैक्षणिक संस्था भारत की सबसे बड़ी निजी संस्था है।  इस अवसर पर प्राचार्य ने महात्मा हंसराज के अनुशासन, समर्पण एवं जीवन आदर्शों जैसे गुणों को आत्मसात करने की सीख दी। कार्यक्रम को सफल बनाने में डॉ आर के सिन्हा, आशुतोष कुमार, सीमंत दत्ता, चंद्र किशोर पंडित आदि की अग्रणी भूमिका रही।

No comments