शिक्षा मनुष्य के सबसे खूबसूरत लिबास और जीवन का बेहतरीन साथी होती है:- मंत्री हफीज उल हसन



मधुपुर 12 जून शिक्षा ही मनुष्य के खूबसूरत लिबास और जीवन का सबसे बेहतरीन साथी होते हैं शिक्षा के बगैर तरक्की का सपना देखना बेकार है यह बातें झारखंड सरकार की अल्पसंख्यक कल्याण खेलकूद कला संस्कृति युवा कार्य मंत्री हफिजूल हसन ने मधुपुर बाजार मोहल्ला स्थित इस्लामिया मदरसा हाजी गली के हॉल में अपने स्वागत समारोह से संबोधित करते हुए कहा!  उन्होंने कहा शिक्षा ही मनुष्य की अच्छाई और बुराई का पहचान कराती है और विकास का राह दिखाता है इसलिए मैं बच्चे के माता पिता से अपील करता हूं कि आपने बच्चों को शिक्षा की पूंजी से मालामाल करें मंत्री श्री हसन ने कहा समाज की बुराइयों के खात्मा के लिए शिक्षा जरुरी है और एक बेहतर समाज के निर्माण के लिए शिक्षा ही दूर कर  सकता है उन्होंने कहा इस्लामी शिक्षा के साथ आज के दौर के  हिसाब से तकनीकी शिक्षा पर जोर देने की जरूरत है साधारण  शिक्षा से  बच्चों की जिंदगी सवारने में परेशानी होती है इसीलिए मेरा अपील है कि बच्चों को शिक्षा के साथ टेक्निक की शिक्षा की कुंजी से मालामाल करें तकनीकी शिक्षा देने में कोई कोताहि ना करें क्योंकि इस  दौर में इसकी सख्त जरूरी है बच्चों को इस्लामी शिक्षा के साथ अच्छी सिद्धांत और उच्च शिक्षा के दौलत से मालामाल करें इसको लेकर मैं हर तरह की मदद करने को तैयार हूं उन्होंने कहा कि मेरे पिता स्वर्गीय हाजी हुसेन अंसारी साहब ने मदरसा की प्रती काफी गंभीर रहते थे मेरे पिता का एक ही मकसद रहता था कि मैं मदरसा को कैसे मोडनाइज करूं ताकि बच्चों की रुझान मदरसा की और खींचे  और शिक्षा हासिल करें इसको लेकर उन्होंने कई मदरसों को मॉडल मदरसा बनाने के लिए पहल किया जहां टेक्निक शिक्षा के साथ उसे बदला गया ताकि हमारी बच्चे बच्चियां इस्लामी शिक्षा के साथ टेक्निकल की शिक्षा हासिल कर सके ऐसे मदरसों मैं मेरे पिता मरहूम ने शानदार बिल्डिंग के साथ कंप्यूटर का व्यवस्था करवाइए मैं भी चाहता हूं के हर मदरसा में टेक्निकल शिक्षा हासिल हो इसके इस लिए आप लोग DPR तैयार करें व्यवस्था करवाना हमारी जिम्मेदारी है मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी योगेंद्र प्रसाद ने मदरसा कमेटी से कहा इस्लामी शिक्षा के साथ बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए आज की दौड़ के लिए टेक्निक् जैसे कंप्यूटर साइंस जैसे शिक्षा देना जरुरी है तभी हम बच्चों का जीवन को बेहतर बना सकते हैं और बेहतर समाज का निर्माण कर सकते हे!मोके पर मदरसा की अध्यक्ष प्रिंस समद, सचिव सरफराज अहमद, मदरसा के हैड मौलवी वर्ली उल्ला,मास्टर कुतबुरहमान,मास्टर अलाउद्दीन,मास्टर शाहिर, तनवीर आलम,मास्टर अजमल,परवेज आलम, मीडिया प्रभारी समीर आलम,शमशेर आलम,संस्कृत स्कूल के मास्टर राज हंस, जितेंद्र पांडे, मनोज कुमार राय,घनश्याम झा इत्यादि लोग उपस्थित थे!

कोई टिप्पणी नहीं