मलेरिया, डेंगू एवं चिकनगुनिया मच्छरों के प्रजनन स्थल को नष्ट करने का प्रशिक्षण दिया गया।



देवघर- नगर निगम परिसर में सतीश कुमार, सीटी मैनेजर के कक्ष में मलेरिया-डेंगू- चिकनगुनिया के नियंत्रण हेतु निगम के सभी वार्ड जमादारों, छिड़काव कर्मियों के साथ स्वास्थ्य विभाग के कम्युनिटी वॉलिंटियर्स सह ब्रीडिंग चेकर्स को प्रशिक्षित किया गया। इन लोगों को शहर के प्रत्येक वार्ड अंतर्गत घर-घर जाकर मलेरिया जांच सह डेंगू सर्वे के साथ जन जागरूकता करते हुए मच्छरों के प्रजनन स्थल को चिन्हित कर उसे नष्ट करने लिए प्रशिक्षण दिया गया। साथ ही इन लोगों को जलजमाव वाले स्थान में लार्वानाशी दवा का छिड़काव करने तथा फागिंग करने के लिए भी प्रशिक्षण दिया गया एवं जमे हुए जलों में मच्छरों के लार्वा, प्युपा को पहचान करने तथा अलग-अलग वैक्टर जनित बीमारियों को फैलाने वाली मच्छरों को पहचानने तथा उसपर नियंत्रण पाने आदि के बारे में विस्तार पूर्वक डॉ गणेश कुमार- जिला भीबीड़ी सलाहकार द्वारा बतलाया गया। साथ ही लोगों से अपील किया गया कि प्रत्येक रविवार को 20 मिनट का समय देकर अपने घर तथा आसपास जलजमाव वाले स्थानों को चिन्हित कर जमे हुए पानी को सूखा या बहा देना चाहिए और इस प्रकार सप्ताह में एक दिन सूखा दिवस मनाने चाहिए ताकि मच्छर को अपना प्रजनन स्थल नहीं मिल पाए। साफ-सफाई, नाली की सफाई आदि बराबर करते रहना है खासकर मॉनसून के दौरान और मानसून के बाद विशेष ध्यान दिया जाए।

कोई टिप्पणी नहीं