देवघर एयरपोर्ट का नाम पं. विनोदानंद झा इंटरनेशनल एयरपोर्ट रखने को लेकर कांग्रेस अडिग।



देवघर- देवघर एयरपोर्ट का नाम अविभाजित बिहार के मुख्यमंत्री एवं महान स्वतंत्रता सेनानी पंडित विनोदानंद झा हो। यह मांग देवघर जिला कांग्रेस में जोरों से उठने लगी है। देवघर कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुन्नम संजय ने देवघर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा का नामकरण के संदर्भ में कहा कि इस एयरपोर्ट का नाम देवघर के लाल, देवघर की पहचान, देवघर का सम्मान दिलाने वाले पंडित विनोदानंद झा के नाम से हो। विनोदा बाबू देवघर ही नहीं पूरे हिंदुस्तान के आदर्श पुरुष थे। जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपने बहुमूल्य जीवन के साढ़े सात साल जेल में बिताए। जिनकी हर खुशी आम जनता के खुशी से जुड़ी हुई थी और हर सुख आम जनता के सुख में निहित था। वह एक त्यागी पुरुष एवं महान ज्ञानी थे। देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई ने भी पंडित विनोदानंद झा को अपना आदर्श मानते हुए उनके संदर्भ में कहे हैं कि "विनोदा बाबू को मैंने अनेकों स्थानों पर देखा। उनका स्नेह स्निग्ध व्यवहार, उनका मधुर व्यक्तित्व, सभी को साथ लेकर चलने का प्रयास,जहां बैठते थे एक आत्मीयता का मानो मंडल कायम कर देते थे। राजनीतिक मतभेद होते हुए भी कभी प्रतिपक्ष की प्रमाणिकता पर उन्होंने संदेह नहीं किया। कभी कमर के नीचे वार नहीं किया। हमारा सार्वजनिक जीवन ऐसे व्यक्तित्व के अभाव से अंकिचन होता जा रहा है। हम उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं और सच्ची श्रद्धांजलि तो यही हो सकती है कि भगवान हमको भी जीवन के आखिरी क्षण तक उनकी तरह से कर्मरत रहने का बल दे।इनके साथ तत्कालीन देश के प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के साथ देश के वरिष्ठ नेता,महापुरुषों एवं स्वतंत्रता सेनानियों ने भी इनके जीवन चरित्र के संदर्भ में अपने मुखारविंद एवं लेखनिया से सम्मान देने का काम किया है। आज देवघर के समाजिक संगठनों के अलावे मुख्य रूप से यहाँ के चुने हुए जनप्रतिनिधी, विधायक व सांसद का भी दायित्व बनता है कि देवघर के सम्मान के लिए आगे बढ़कर अपनी महती योगदान दें। ताकि देवघर के महापुरुष के नाम से देवघर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा को जाना जा सके।

कोई टिप्पणी नहीं