बीटीएम ने इन्द्रपहाड़ी गांव के प्रगतिशील कृषक को दी श्री विधि से धान खेती करने की जानकारी।



कुंडहित (जामताड़ा):बुधवार को इंद्र पहाड़ी गांव के प्रगतिशील कृषक को बीटीएम सुजीत कुमार ने  श्री विधि से धान खेती करने की जानकारी दी गई| किसानों को बताया गया श्री विधि से धान की खेती करने के लिए 1 एकड़ खेत के लिए मात्र 2 से 3 किलोग्राम बीज की आवश्यकता होती है| जबकि परंपरागत विधि से 20 किलोग्राम तक बीज किसान लगा देते हैं|बताया गया कि जब बिचड़ा 7 से 12 दिन का हो जाए और दो पत्ता निकल आए तभी बिचड़े को जड़ सहित उखाड़ कर 1 घंटे के अंदर 10 से 12 इंच की दूरी पर सीधी  लाइन में लगा देते हैं |पौधे के बीच में उचित दूरी रहने पर खरपतवार नियंत्रण में सुविधा होती है  एवं पौधों को पर्याप्त मात्रा में पौष्टिक तत्व मिलते हैं| खरपतवार नियंत्रण हेतु दूरी रहने के कारण को कोनोवीडर का प्रयोग आसानी से कर सकते हैं| 1 एकड़ धान की खेती में श्री विधि से लगभग 25 से 30 क्विंटल धान का प्राप्ति होती है| किसानों को कोविड-19 वैक्सीनेशन हेतू भी प्रेरित किया गया| समझाया गया कि कोरोना एक भयंकर महामारी है |इससे बचने के लिए टीका अवश्य लगवाएं| 18 वर्ष के सभी लोगों को टीका लगवाना चाहिए ताकि इस गंभीर बीमारी से बचाव हो सके| वैक्सीन को लेकर फैले अफवाह पर ध्यान नहीं देना है| मौके पर रसीक टूडू,दिलीप हांसदा, सजनी सोरेन ,जयसिंह टुडू सहित आदि किसान मौजूद थें|

कोई टिप्पणी नहीं