कुंडहित सीएचसी में आयुष चिकित्सकों ने काला बिल्ला लगाकर किया कार्य, सरकार से बिहार की तर्ज पर रखी मॉंग।



कुंडहित (जामताड़ा) :आयुष चिकित्सक संघ के निर्देशानुसार बुधवार को कुंडहित सीएचसी में आयुष चिकित्सकों ने काला बिल्ला लगाकर सरकार के प्रति  ध्यान आकृष्ट कराया। आयुष चिकित्सक संघ के जिला अध्यक्ष डॉक्टर ओम प्रकाश यादव ने बताया कि आयुष चिकित्सकों ने झारखंड के सभी सीएचसी एवं पीएचसी में ओपीडी, आईपीडी तथा सभी कार्यक्रम में सेवा देते आ रहे हैं। कोरोना महामारी के इस दौर में प्रारंभ से ही अग्रिम पंक्ति में रहकर दायित्व का निर्वाहन किया है। बिहार में आयुष चिकित्सकों का वेतन एलोपैथिक चिकित्सक के बराबर है। लेकिन झारखंड में चिकित्सकों के साथ भेदभाव रवैया अपनाया जा रहा है। पिछले वर्ष सभी आयुष चिकित्सक अपनी मांग को लेकर हड़ताल पर गए थे। पर अभियान निदेशक के आश्वासन के बाद हड़ताल स्थगित कर दिया गया था। कहा कि आठ जून से 12 जून तक आयुष चिकित्सक संघ झारखंड के निर्देशानुसार काला बिल्ला लगाकर कार्य करेंगे। सरकार जल्द इस पर ठोस निर्णय नहीं लेती तो उग्र आंदोलन करेंगे। सरकार से बिहार की तर्ज पर समान कार्य समान वेतन लागू करने, 10 फीसद की वार्षिक वृद्धि, उम्र 67 वर्ष करने, समायोजन करने, 50 लाख का बीमा तथा कोरोना योद्धा के रूप में पंजीकृत करने की मांग सरकार से रखी गई है। सभी स्वास्थ्य केंद्र पर आयुष चिकित्सकों की अलग ओपीडी की भी व्यवस्था हो। मौके पर डॉ  ओम प्रकाश यादव के अलावे डॉ तापस  कुमार मंडल, डॉ करण कुमार, डॉ समीर मंडल मौजूद थे।

No comments