विभिन्न मांगों को लेकर सियारसुली में एआईकेएस का विरोध प्रदर्शन



कुंडहित(जामताड़ा)शनिवार को एआईकेएस जिला कॉउन्सिल के सदस्य सुकुमार बाउरी  के नेतृत्व में  अम्बा पंचायत के शियारशूली गांव में विभिन्न मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया।बताते चलें कि पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत मौजूदा केंद्र सरकार की मनमानी के कारण शनिवार को राष्ट्रव्यापी किसान आंदोलन के सात महीने पुरे होने के अवसर पर एवं विभिन्न समस्याओं को लेकर एआईकेएस जामताड़ा जिला समिति के तत्वधान में जनविरोधी- किसान विरोधी कारपोरेट परस्त कृषि कानून वापस करने , फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी देने  हेतु कानून बनाने, गैरआयकर दाता परिवार  को प्रतिमाह  ₹7500 देने, चारों लेबर कोड समाप्त करने ,कोरोना  के कारण म्रृतक के परिजनों को चार लाख रूपए मुआवजा एवं पेंशन देने ,कोरोना काल तक प्रति व्यक्ति 10 किलो निःशुल्क अनाज देने ,किसानों के धान का बकाया का जल्द भुगतान करने, मनरेगा में 200 दिन काम का गारंटी करने ,मनरेगा में ₹600 की न्यूनतम मजदूरी देने , आसमान छूति महंगाई पर लगाम लगाने सहित विभिन्न मांगों को लेकर  कुंडहित प्रखंड के सियारसुली गांव में विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया गया। मौके पर एआईकेएस जिला काउंसिल के सदस्य सुकुमार बाउरी गोलक डोम, नंद बाउरी, नगेंद्र बाउरी, शांति बाध्यकर, पवित्र वाध्यकर, काजल बाउरी, निखिल बाउरी संतोष डोम, लालटू बाउरी आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं