मॉडलिंग में अपना कैरियर बनाना चाहती है मिस शंपा घोष



देवघर।मिस शंपा घोष बाबा बैजनाथ धाम देवघर की रहने वाली है ।उसका जन्म कोलकाता में 4 अक्टूबर 1997 को हुआ और वह बचपन से ही गायकी  और मॉडलिंग में अपना कैरियर बनाना चाहती थी ।और इससे हमेशा से उसके माता-पिता का सहयोग रहा ।गायकी वह बचपन से ही करती है ।ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद पहला पार्टिसिपेट उसने दिल्ली में आयोजित मिस मिसेज एंड मिस्टर कॉस्मापॉलिटन क्वीन ऑफ इंडिया में मिस पंजाब का खिताब जीती। उसके बाद हाल ही में हुए कानपुर में आयोजित मिस इंडिया इंटरनेशनल में मिस इंडिया अर्थ इंटरनेशनल , मिस झारखंड और मिस लाइफस्टाइल का खिताब जीती।मॉडलिंग के संबंध में उनका कहना है कि...

 एक जमाना था जब मॉडलिंग या तो मॉडर्निटी  की पहचान होती थी या हॉबी की।. हालांकि तब भी अच्छा खासा धन अर्जित कर रही थी। लेकिन मॉडलिंग कैरियर नहीं था ।मगर पिछले डेढ़ दशक से जब से देश की अर्थव्यवस्था तेज रफ्तार से वृद्धि कर रही है। तब से मॉडलिंग अब महज लाइफस्टाइल हाई प्लाइज मॉडर्निटी या महज शौक भर नहीं है । यह खासा और तेजी से विकास करता स्मार्ट कैरियर भी है । महज संयोग नहीं है कि देश में मॉडलिंग तेजी से इंडस्ट्री का रूप ले रही है। आज 20,000 करोड़ रुपए की यह इंडस्ट्री 30 फीसदी  सालाना की दर से बढ़ रही है । बड़ी तेजी से मॉडलों के लिए एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के दरवाजे खुल रहे हैं। आज के कई नामी-गिरामी अभिनेता और अभिनेत्रियां फैशन की दुनिया से ही आए हैं...।

कोई टिप्पणी नहीं