देवघर जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों से 16 साइबर अपराधी गिरफ़्तार।



देवघर- एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा ने एक साल पहले हीं देवघर की कमान थामते हीं साइबर अपराधियों का जीना मुहाल कर रखा है। मालूम हो कि पिछले एक साल से लगातार साइबर अपराधियों की धड़पकड़ जारी है, फिर भी देवघर जिले से साइबर अपराध खत्म नहीं हो रहा और साइबर अपराधी सुधरने का नाम नहीं ले रहे। शुक्रवार को भी जिले के मार्गोमुंडा,  मधुपुर, पथरअड्डा, सारठ, पालोजोरी एवं सारवाँ थाना क्षेत्र में छापेमारी कर 16 साइबर अपराधियों को गिरफ़्तार किया गया। गिरफ़्तार अपराधियों के पास से पुलिस ने 26 मोबाइल, 35 सिमकार्ड, तीन एटीएम कार्ड और ग्यारह पासबुक बरामद किया है। इन सोलह साइबर अपराधियों की गिरफ़्तारी के बाद एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया प्रतिनिधियों को बताया कि यह सभी अपराधी फर्जी मोबाइल नंबर के जरिये फर्जी बैंक अधिकारी बनकर, एटीएम बंद होने तथा केवाईसी अपडेट कराने के नाम पर ओटीपी प्राप्त कर रूपयों की ठगी करते थे। यह लोग लगातार नई नई तकनीक जैसे, फोनपे, पेटीएम, गूगल पर विभिन्न प्रकार के वॉलेट एवं फर्जी एडवरटाइजमेंट देकर रूपयों की ठगी कर रहे थे। साथ ही टीम व्यूवर एवं क्विक सपोर्ट जैसे रिमोट एक्सेस ऐप इंसटॉल करवाकर, मोबाईन नंबर का पहला चार अंक जानने के बाद अपने मन से छः अंक जोड़ कर साइबर क्राइम करते थे।

No comments