11 हजार हाई वोल्ट तार गिरने से गंडाजोरी गांव में दो मवेशी की हो गई मौत, बिरजामून में भी करंट की चपेट में दो बैल मरे



सारठ : प्रखंड क्षेत्र के बगडबरा पंचायत के गंडाजोरी टोला नवासार निवासी कारु रजवार व दिनेश्वर रजवार का बैल बुधवार को 11 हजार हाई वोल्ट बिजली तार की चपेट में आने से हो गई। उक्त घटना बसाहा फीडर के भथरिया लाइन में हुआ और इस फीडर की बिजली तार काफी जर्जर है। जिसके चलते आये दिन उस इलाके में कहीं ना कहीं तार गिरती रहती है और विद्युत प्रवाहित तार गिरने से हादसे भी होते रहता है। ग्रामीणों का कहना था कि जर्जर तार को बदलने के लिए कई बार विभाग को बोला गया। लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती है।वहीं तार गिरने के बाद बिजली मिस्त्री द्वारा जैसे तैसे उसी जर्जर तार को जोड़कर विद्युत व्यवस्था को बहाल कर दिया जाता है। बताते चलें कि बीते मंगलवार को भी बीरजामुन गांव मे भी 11 हजार बिजली तार की चपेट में आने से दो बैल की मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं आये दिन तार गिरने की समस्या से जान-माल का खतरा भी हमेशा बना रहता है।बताते चलें कि प्रखंड क्षेत्र में फैले 11 हजार मैन लाइन का अधिकतर तार जर्जर हो चुका है। वही भुक्तभोगी किसानों का कहना है कि खेती-बारी के समय बैल मर जाने से बहुत मुश्किल हो गया है। ग्रामीणों ने बताया कि प्रत्येक बैल की कीमत लगभग 20 हजार है। ऐसे में एक गरीब मज़दूर के लिए तुरंत बैल खरीदकर खेती करना नामुमकिन है। वहीं उक्त घटना को लेकर ग्रामीणों ने बिजली विभाग के प्रति काफी आक्रोश देखा गया और विभाग से मुआवजे की मांग भी की है।

कोई टिप्पणी नहीं