योजनाओं की समीक्षा को लेकर बीडीओ ने समीक्षा बैठक, कार्य में शिथिलता बरतने को लेकर लगाई फटकार



सारठ : बीडीओ साकेत कुमार सिन्हा ने शनिवार को प्रखंड कार्यालय सभागार में कोविड 19 को लेकर सामाजिक दूरी का पालन करते हुए दो पालियों में योजनाओं की समीक्षा को लेकर बैठक की।बैठक में कई पंचायतों में विकास कार्यों में बरती जा रही शिथिलता को देख बीडीओ ने नाराजगी जाहिर की। वहीं संबंधित पंचायत सेवक एवं रोजगार सेवक को कड़ी फटकार लगाते हुए निर्धारित अवधि में कार्य पूर्ण कराने का सख्त निर्देश दिया। बैठक में बीडीओ ने दीदी बाड़ी योजना में अधिकांश पंचायतों का रिजल्ट शून्य देख भी नाराजगी जताई और कहा कि प्रखंड में कुल 1642 दीदी बाड़ी की स्वीकृति मिली है और उसमें से महज 463 दीदी बाड़ी ही सक्रिय है। जबकि 1179 अभी भी पेंडिंग पड़ा है। बैठक के दौरान भूमि जलस्तर बढ़ाने पर जोर देते हुए सभी पंचायतों के सरकारी भवनों मे या प्रत्येक पंचायत में कम से कम 10 रेनवाटर हार्वेस्टिंग बनाने का निर्देश दिया गया। वहीं मनरेगा के तहत सिचाई कूप, डोभा समेतअन्य योजनाओं को बरसात से पहले पुर्ण करने एवं एफटीओ करने से पूर्व मज़दूरों का आधार एवं खाता संख्या का अच्छी तरह से मिलान के बाद ही भुगतान करने का निर्देश भी दिया।बैठक में मौजूद अभियंताओ को मेटेरियल भुगतान से पूर्व योजनाओं का निरक्षण एवं भौतिक सत्यापन कर ही मापी के अनुरूप भुगतान करने की हिदायत की। मौके पर बीपीओ डेविड गुड़िया, पंचायत सचिव सुबल सुभाष मंडल, रोजगार सेवक मधुकर अकेला समेत सभी पंचायत सचिव एवं रोजगार सेवक मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं