हिन्ती पत्रकारिता दिवस के अवसर पर वर्चुयल संगोष्डी का किया गया आयोजन



स्थानीय राहुल अध्ययन केन्द्र में हिन्ती पत्रकारिता दिवस के अवसर पर वर्चुयल संगोष्डी का आयोजन किया गया । मौके पर वरिय पत्रकार व साहित्यकार धनंजय प्रसाद ने विस्तार पूर्वक चर्चा करते हुये कहा कि आज के ही दिन 240 वर्ष पूर्व 30 मई 1826 को कोलकत्ता से पहला साप्ताहिक अखफार - उदंत मार्तंड का प्रकाशन शुरु हुआ । इसी दिन को हम हिन्दी पत्रकारिता दिवस के रुप मै मनाते है । वैसे तौ आज हिन्दी पत्रकारिता के समक्ष चुनौतियां ही है । इसके दायित्व और दायर भी बढ़े है और खतरे भी .। कोरोना काल मै हमारे दर्जनों मौत के आगोश मे समा गये , उनके परिजनो उचित मुआबजा मिलनी चाहिए । उन्होने कहा0कि लोकत्तंत्र  पत्रकारिता की अहम भूमिका हे । इसे नकारा नही जा सकता है । इसके अन्य मीडियाकर्मी शामिल थे ।

कोई टिप्पणी नहीं