संक्रमण मुक्त होते ही जंग में कूदे योद्धा।



देवघर।कोरोना की मार से पुरे देश के साथ ही कोरोना के जंग में लगे अग्रिम पंक्ति के योद्धा भी लगातार संक्रमित हो रहे हैं क्योंकि उन्हें संक्रमण का खतरा हमेशा बना रहता है ।

ऐसे ही एक योद्धा हैं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सारठ में लैब टेक्नीशियन के पद पर कार्यरत मनोज कुमार मिश्र । कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में अपनी कार्यशैली के बदौलत इन्होंने अपनी अमिट छाप छोड़ी है । बीते वर्ष से लगातार कोरोना के लक्षण वाले लोगों का जांच करते करते  तीन मई 2021 को यह खुद भी संक्रमित हो गए । संक्रमित होने के बाद इन्हें होम आइसोलेशन में भेज दिया गया । इधर इनके संक्रमित होने के कारण सारठ में जांच संबंधी कार्य व्यवस्था व्यापक रूप से बाधित हुई वहां के लैब में जांच के कार्य भी बंद करना पड़ा । कर्त्तव्य परायण के साथ ही व्यवहार कुशल होने के कारण स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों समेत सारठ की आम जनता ने भी इनके संक्रमित होने पर अपना दुख व्यक्त किया ।

इधर संक्रमित होने के बाद भी इनको अपने तकलीफ से अधिक फिक्र सारठ की जनता को होने वाली परेशानियों का रहा और इस कारण यह चिंतित रहे । दिनांक 16/05/21 को इनका जांच रिपोर्ट निगेटिव आया और 17/05/21 को इन्होंने सारठ में अपना योगदान कर लिया ।

प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के द्वारा इनको आराम से रहने और सेम्पल कलेक्शन जैसे कठिन कार्य से दूर रहने की बात कहे जाने के बावजूद भी इनका मन नहीं माना और दिनांक 18/05/21 से से इन्होंने सेम्पल कलेक्शन का कार्य शुरू कर दिया।सारठ के सभी पदाधिकारी , कर्मचारी और आम जन इनके इस हौसले को सलाम करते हैं ।आम जनता के लिए श्री मिश्र ने एक संदेश दिया है कि हम आप लोगों को सुरक्षित रखने के लिए अपनी जान की बाजी लगा कर काम कर रहे हैं । आप लोग भी अधिकाधिक संख्या में कोरोना रोधी टीका लगवाएं और टीका लगाने के बाद भी हमेशा मास्क, दो गज की दूरी, हाथ की सफाई और लक्षण आने पर तुरंत जांच और इलाज करवाने का प्रयास करें ।

No comments