प्राइवेट स्कूल शिक्षकों के सहयोग मेंआगे आया इनरव्हील क्लबऔर द शिवाफाउंडेशन



देवघर।कोरोना संक्रमण के कारण लगे देशव्यापी लॉक डाउन के बाद आम आदमी की आर्थिक हालात का अंदाजा लगाना कोई बड़ी बात नहीं है। आम आदमी के समक्ष अब कोरोना के साथ भूख से लड़ने की चुनौती विकराल रूप में खड़ी है। इस चुनौती ने प्राइवेट स्कूलों के शिक्षकों को भी अपने घेरे में ले लिया है।ज्ञात हो कि लॉक डाउन के कारण मार्च 2020 से अब तक निरंतर स्कूल के बंद होने से प्राइवेट स्कूल प्रबंधन अपने शिक्षकों के लिए मुलभुत आवश्यकताओं की पूर्ति करने लायक स्थिति में नहीं हैं। फलतः प्राइवेट स्कूलों के शिक्षकों के सामने भूखों मरने की नौबत आ गयी है।वही प्राइवेट स्कूल के शिक्षकों की दयनीय स्थिति को देखते हुए इनरव्हील क्लब ऑफ़ देवघर की अध्यक्षा ई. अंजू बैंकर ने अपने सामर्थ्य अनुसार शिक्षकों को इस भुखमरी से बाहर लाने का प्रयास किया है जिसमे इनका साथ निभाया देवघर के ही द शिवा फाउंडेशन  ने।इसी प्रयास के तहत आज दिनांक 24 मई 21 को इनर व्हील क्लब ऑफ़ देवघर की अध्यक्षा श्रीमती अंजू बैंकर के द्वारा प्राइवेट स्कूलों के 11 शिक्षकों को वितरित करने के लिए खाद्य सामग्री प्रदान की गई है। जिसमें प्रति शिक्षक परिवार हेतु निम्नलिखित सामग्री प्रदान की गई है।जिसमें चावल 25 किलो आटा 10 किलो आलू 5 किलो प्याज 2 किलो तेल 1 लीटर चूड़ा 4 किलो नमक 1 किलो हल्दी 100 ग्राम धनिया 100 ग्राम।मौके पर श्रीमती बैंकर ने कहा कि यह सामग्री सभी शिक्षकों को गुरु दक्षिणा के रूप में अर्पित की जा रही हैं जो कि हमारे बच्चों के भविष्य निर्माता हैं। अतः इन्हें दया का पात्र न समझे बल्कि इनके प्रति आदर का भाव रखें।ज्ञात हो कि उपरोक्त सामग्री सभी 11 शिक्षकों में टीम द शिवा फाउंडेशन के द्वारा वितरित की जाएगी।

No comments