दो सरकारी कर्मचारी द्वारा खराब बर्ताव करने पर कपड़ा व्यवसाई ने उपायुक्त से की बर्खास्त करने की मांग



देवघर।स्थानीय बड़ा बाजार स्थित एक दुकान में पानी घुस जाने के कारण दुकान को अंदर से दुकान के मालिक और एक स्टाफ शटर गिराकर दुकान साफ कर रहे थे इसी बीच अनुमंडल कार्यालय के स्टाफ द्वारा बाहर से गालीगलौज करते हुए शटर उठाने की बात कही जबकि सटर उठाने के बाद वह स्टॉफ वीडियो बनाने लगा और गाली भी दिया ।इसी को लेकर कपड़ा एसोसिएशन ने अनुमंडल कार्यालय के स्टाफ के द्वारा इस प्रकार बर्ताव को लेकर बर्खास्त की मांग की है।जबकि वैश्विक महामारी की मार से पिछले वर्षों से ही व्यापारी वर्ग नुकसान सह रहा है जिससे कि उनकी आर्थिक व्यवस्था चरमरा गई है साथ ही झारखंड सरकार के आदेशों का अनुपालन कर रही है उसके बावजूद प्रशासनिक विभाग के दो कर्मचारी जबरन दुकानदारों के साथ गाली गलौज व अभद्र व्यवहार किया है ।यह कोई नीति संगत बात नहीं है ।किसी भी दुकान में रेड मारने का अधिकार मजिस्ट्रेट रैंक का अधिकारी का होता है उसके बावजूद अनुमंडल पदाधिकारी कार्यालय का किरानी किसी दुकान के बाहर आ कर गाली गलौज करता है यह बिल्कुल बर्दाश्त करने के लायक नही है। आज बुधवार को यही घटना बड़ा बाजार में 9:30 बजे हुई है ।जिसका विरोध बैद्यनाथ चेंबर ऑफ कॉमर्स के सभी सदस्य सह देवघर टैक्सटाइल्स एंड गारमेंट एसोसिएशन के सभी सदस्यों ने विरोध किया।जबकि एक तरफ तो झारखंड सरकार जीवित रहने की कोई व्यवस्था नहीं दे रही है वहीं दूसरी तरफ मरने के बाद कफन अवश्य दे रही है बैद्यनाथ धाम चेंबर ऑफ कॉमर्स झारखंड सरकार एवं  उपायुक्त महोदय से माग किया है की उक्त दोनों कर्मचारियों को बर्खास्त करें एवं सभी विभागीय कर्मचारियों को पुलिस पदाधिकारियों को यह हिदायत दे किसी भी व्यापारी को ऊपर हाथ ना छोड़े गाली गलौज ना करें अन्यथा विरोध का बिगुल फूंक चुका है अगर पुनः ऐसा घटना कारित हुआ तो इसकी सारी जिम्मेवारी देवघर जिला प्रशासन एवं झारखंड सरकार की होगी पंकज पंडित अध्यक्ष बैद्यनाथधाम चेंबर ऑफ कॉमर्स सह देवघर टैक्सटाइल्स एंड गारमेंट एसोसिएशन ने इसकी जानकारी दी।

कोई टिप्पणी नहीं