"सुरक्षित गाँव हमर गांव" बनाने में आप सभी जनप्रतिनिधियों का सहयोग आपेक्षित:- मंजूनाथ भजंत्री



पंचायत व ग्राम स्तर पर कोरोना संक्रमण के रोकथाम, बचाव व जागरूकता के उद्देश्य से उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में आज दिनांक 16.05.2021 को जिला परिषद के सभी सदस्य (कार्यकारी), पंचायत समिति के सभी सदस्य, ग्राम प्रधान, मुखिया (कार्यकारी) एवं संबंधित नोडल अधिकारियों के साथ ऑनलाइन परिचर्चा सह बैठक का आयोजन किया गया। साथ ही उपायुक्त ने प्रेजेंटेशन के माध्यम से सभी को कोविड से बचाव, लक्षण, रोकथाम, इलाज, होम आइसोलेशन, चिकित्सकों द्वारा दी गई सलाह, राज्य सरकार व जिला प्रशासन द्वारा जारी आवश्यक गाइडलाइन के अलावा प्रतिरोधक क्षमता को बनाये रखने से जुड़ी विस्तृत जानकारी दी गई।


वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने सभी जनप्रतिनिधियों को जिले में कोविड के लिए उपलब्ध संसाधनों से अवगत कराया। साथ ही उन्होंने बताया कि पिछली लहर की तुलना में यह ज्यादा घातक है, फिर भी लोग न घबराएं। जरूरत है तो बस ज्यादा सतर्क और सावधान रहने की। आप सभी जनप्रतिनिधि अपने क्षेत्र में रहकर आम जनों की समस्याओं को काफी करीब से समझते हैं। ऐसे में संक्रमण को रोकने के लिए आप सभी के सुझाव काफी लाभदायी और महत्वपूर्ण है। जिला प्रशासन का लगातार प्रयास है की स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को दिन प्रतिदिन सुदृढ़ करने का प्रयास किया जा रहा है। इसके अलावे ग्रामीण क्षेत्र में कोविड वैक्सिन के प्रथम डोज, द्वितीय डोज, कोरोना संक्रमण व वैक्सिनेशन को लेकर जागरूकता के अलावा कोविड नियमों का शत प्रतिशत अनुपालन, साफ-सफाई व कोविड रोकथाम के विषयों पर विस्तृत चर्चा की गई।


बैठक के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने सभी को संबोधित करते हुए जिला परिषद के सभी सदस्य (कार्यकारी) पंचायत समिति के सभी सदस्य ग्राम प्रधान, मुखिया (कार्यकारी) से अपील करते हुए कहा कि लोगों को जागरूक और सतर्क करने में आप सभी की भूमिका अति महत्वपूर्ण है। साथ ही वर्तमान समय मे ग्रामीण क्षेत्रों में सावधानी और सतर्कता के साथ कोविड नियमों का अनुपालन, वैक्सीनशन अत्यंत महत्वपूर्ण है, ताकि संक्रमण की चैन को तोड़ा जा सके। इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर काफी असरदायक साबित हो रही है, इसमें थोड़ी सी लापरवाही से खतरा काफी बढ़ सकता है , ऐसे में संक्रमण के खतरे से बचने के लिए वैक्सिनेशन सुरक्षा कवच है। वर्तमान में सबसे महत्वपूर्ण है कि अपने साथ - साथ अपने परिवार की स्वास्थ्य सुरक्षा का विशेष रूप से ख्याल रखें। साथ ही वैक्सीन को लेकर भ्रांतियों को हर स्तर पर दूर करने के प्रयास में जिला प्रशासन का शत प्रतिशत सहयोग करें। साथ ही उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजंत्री ने 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सिन दिये जाने की प्रक्रिया से अवगत कराते हुए कहा कि ऐसे लोगों को चिन्ह्ति करते हुए उनका निबंधन कराना सुनिश्चित करें, ताकि संक्रमण की चैन को तोड़ा जा सके।


■ शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में आवश्यकता अनुसार टीकाकरण केंद्रों की संख्या बढ़ाई जा रही है....


इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री ने सभी से अपील करते हुए कहा है कि वर्तमान में एक बार फिर से कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा हैं। साथ ही देवघर जिला अंतर्गत कोरोना पोजेटिव मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। ऐसे में शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीणों क्षेत्रों में भी कोविड टीकाकरण केंद्रों की संख्या बढ़ाई जा रही है, ताकि लोगों को आसानी से कोविड टिका दिया जा सके। वर्तमान में सबसे महत्वपूर्ण है कि अपने घरों से बेवजह न निकले और किसी वजह से बाहर निकलते है तो चेहरे और नाक को अच्छे से सिंगल या डबल मास्क से ढंक कर रखें एवं एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के बीच दो से चार मीटर तक की दूरी बना कर रहें। इसके अलावे स्वच्छता पर विशेष ध्यान रखते हुए अपने हाथो को थोड़े समय के अंतराल पर साबुन या हैंडवॉश से अवश्य धोएं। कोरोना को लेकर साफ-सफाई का ध्यान रखते हुए बेवजह अपनी आंख, नाक या मुंह को हाथों से न छुएं। तंबाकू, गुटखा व धूम्रपान का उपयोग न करते हुए सार्वजनिक स्थानों पर न थूकें और दूसरों को भी ऐसा करने के लिए प्रेरित करें। साथ ही उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि कोरोना से डरने की जरूरत नहीं है, बस कोविड नियमों का शत प्रतिशत अनुपालन करते हुए सावधान व सतर्क रहने की जरूरत है। एहतियात बरतते हुए स्वयं को एवं अपने परिवार को सुरक्षित रखें। इसके अलावा उनके द्वारा कहा गया कि कोई भी व्यक्ति किसी प्रकार के अफवाहों पर ध्यान न दे और न हीं घबराएँ या पैनिक हों। सभी लोग अपने स्तर से हरसंभव एहतियात बरतें, ताकि कोरोना के प्रसार पर रोक लगाया जा सके।

■ हम सभी को अपने व्यवहार में कोविड नियमों का अनुपालन करे सुनिश्चित:- उपायुक्त....

बैठक के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री द्वारा जानकारी दी गई कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस से बचने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं। मास्क, सामाजिक दूरी का अनुपालन के अलावा हाथों को साबुन से धोना चाहिए। अल्कोहल आधारित हैंड रब का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। खांसते और छीकते समय नाक और मुंह रूमाल, टिशू पेपर या हाथ से ढककर रखें। साफ-सफाई के साथ मास्क या फेस कवर का उपयोग करें और जिन व्यक्तियों में कोल्ड और फ्लू के लक्षण हों उनसे दूरी बनाकर रखें। और सबसे महत्वपूर्ण कोविड नियमों का अनुपालन और अपनी बारी आने पर कोविड का टीका अवश्य लगाए और दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें।

■ वर्तमान में मास्क, साफ-सफाई व कोविड नियमों का अनुपालन अति महत्वपूर्णः-उपायुक्त....

बैठक सह परिचर्चा के दौरान उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री द्वारा जानकारी दी गई है कि स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड नियमों के शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करने के अलावा लोगों को सतर्क और जागरूक करने की कड़ी को मजबूत करने के उद्देश्य से आप सबों को जोड़ते हुए व्हाट्सएप ग्रुप बनाने का निर्देश संबंधित अधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी एवं संबंधित थानों के थाना प्रभारी को दिया है, ताकि 194 पंचायत में वैक्सीनशन, कोविड टेस्टिंग, स्वास्थ्य व्यवस्था की निगरानी को लेकर (सुरक्षित गांव, हमर गांव) बनाने के साथ पंचायत स्तर के जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों व कर्मियों को जोड़ा गया है, ताकि पंचायत स्तर की आवश्यकताओं को देखते हुए उसे त्वरित पूरा किया जा सके।

No comments