झारखंड बंगाल सीमा मुड़ाबढ़िया चेक पोस्ट ड्यूटी तैनात होमगार्ड हो रहे काफी दिक्कत।



कुंडहित (जामताड़ा):झारखंड बंगाल सीमा स्थित मुड़ाबेढ़िया चेक पोस्ट में ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड को आंधी पानी के दौरान काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। यहां एक छोटे से झोपड़ी में आठ-आठ लोगों को किसी तरह रहना पड़ रहा है। होमगार्ड रहने के लिए प्रशासन ने अबतक कोई अच्छी व्यवस्था उपलब्ध नहीं कराई गई है।मिली जानकारी के अनुसार कुछ दिन पहले कुंडहित प्रखंड विकाश पदाधिकारी ने उस चेक पोस्ट के पास बना हुआ घर पर तिरपाल लगाने की व्यवस्था किया था।पर वो तिरपाल से कोई लाभ मिलता नही दिख रहा है।बताते चले कि जब भी बारिश होती है तब उस घर में साँप बिच्छू आदि जहरीले जीव घुस जाता है,जिस वजह से वहाँ तैनात होमगार्ड डरे सहमे अपना ड्यूटी करते है।

वहीं होमगार्ड से पूछे जाने पर उन लोगों ने बताया कि तेज बारिश और आंधी आने से हम लोगों का छत में जो तिरपाल लगा हुआ है उससे बारिश की पानी चुना शुरू हो जाता है और सारा सामान भींगकर बर्बाद हो जाता है। ऐसे में दिन भर खड़े होकर ड्यूटी करने के बाद भी आराम करना मुश्किल हो जाता है।साथ ही मुराबेड़िया चेक पोस्ट में तैनात होम गार्ड ने बताया कि हमे अभी तक ना ही सेनेटाइजर मास्क कुछ भी उपलब्ध नही कराया गया है।साथ ही जिला प्रशाशन के लापरवाही को देखते हुए मजबूरी में पश्चिम बंगाल में बना हुआ एक परिवार के झोपड़ी में जाकर शरण लेना पड़ता है।

मौके पर होमगार्ड ने जिला प्रशासन से जल्द से जल्द चेक पोस्ट में रहने के लिए घर की मरम्मती करने की मांग किया है।

जानिए किया कहते है इंसिडेंट कमांडर सह प्रखंड विकास पदाधिकारी गिरीवर मिजं ?

प्रखंड विकास पदाधिकारी गिरीवर मिजं को दूरभाष के माध्यम से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि छावनी  के लिए तिरपल की व्यवस्थ्य कर दिया गया। रहने के लिए घर थोड़े ही है वह चेकपोस्ट है।मास्क  और  सेनीटाइजर जवान अपने स्तर से  व्यवस्था करें।

No comments