कोरोना काल में बेरोजगारों को रोजगार की व्यवस्था हो : मंत्री हफीजुल हसन!



मधुपुर सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा झारखंड सरकार की कैबिनेट बैठक किया गया। बैठक में स्थानीय विधायक सह मंत्री श्री हफीजुल  हसन अंसारी ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी सहित अन्य मंत्रियों को अपना सुझाव दिया। मंत्री हफीजुल हसन ने कहा मधुपुर विधानसभा में गत 16 मार्च को आदर्श आचार संहिता लगा था। उसके बाद विकास कार्य रोक दिया गया। जैसे मनरेगा कुआं की खुदाई हुआ लेकिन उसका पेमेंट अभी तक नहीं हुआ है, उसका भुगतान कराया  जाए। कहा कि हमारा क्षेत्र गरीब और पिछड़ा क्षेत्र है।  यहां के ज्यादातर नौजवान बाहर में जाकर काम करते हैं। अभी 3-  4 महीना से घर पर आकर बैठे हुए हैं।  बेरोजगारी से लोग परेशान है। यहां पर कुछ रोजगार सरकार के द्वारा चलाया जाए। ऐसी योजना चलायी जाए जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार मिले। हमारे मुस्लिम बहुमूल्य क्षेत्र में  वैक्सीन का प्रचार बहुत कम हुआ है। जागरूकता के अभाव में ग्रामीण क्षेत्रों में लोग  वैक्सीन नहीं ले रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना  का डर लोगों को पता नहीं चल पा रहा है। उसे हमलोगों को जागरूक करना है । साथ ही साथ वैक्सिंग के लिए भी जागरूक कराना है। क्षेत्र में  जो भी कोरोना मरीज की मौत हो जाती है उसकी आर्थिक स्थिति बहुत खराब हो जाती है। एक पेशेंट पर  दो से तीन लाख  खर्चा हो जाता है। तमाम कैबिनेट के साथियों से अनुरोध करता हूं कि जिस तरह पिछले बार विधायक फंड से कुछ हमलोग सहायता किए थे।  कुछ ऐसी सहायता राशि कोरोना से मृतकों के आश्रितों को मिले। जिनका मौत हुआ है उनके परिवार को सहयोग करेंगे। साथ ही हजारीबाग में जो  सिलेंडर चोरी जो हुआ उसमें अभी छापामारी चल रहा है। उसमें एक विशेष समुदाय को टारगेट किया जा रहा है। मुख्यमंत्री उस पर भी थोड़ा ध्यान दीजिए और झारखंड सरकार बहुत ही अच्छा काम कर रही है।  यहां गरीब क्षेत्र है यहां रोजगार के लिए हम लोगों को ध्यान देना पड़ेगा। हमलोग को कोविड को पालन करते हुए  विकास कार्यों को कैसे चालू करें इस पर ध्यान देना होगा। समय बीत रहा है 5 साल में डेढ़ साल बीत गया है। साढ़े तीन  साल किस तरह हम लोग काम करेंगे।  सरकार से अनुरोध करते हैं कि टेंडर भी निकालें। नियम बनाकर जो योजना है उसे हम लोग चालू करेंगे!

No comments