कोरोना महामारी को दूर करने वाला वैक्सीनेशन टीकाकरण कार्य को जारी रखे सरकार:चंद्रशेखर खवाड़े



देवघर।आज के समय में कोरोना टीकाकरण वैक्सीनेशन की अनिवार्यता पर सभी लोग ज्ञान दे रहे परंतु झारखंड की स्थिति अति दयनीय होती जा रही है । सरकार के पास वैक्सीन नहीं है आए दिन रजिस्ट्रेशन रद्द किए जा रहे हैं । आज भी देवघर सदर अस्पताल में  18+ के सभी वैक्सीनेशन को रद्द कर पुनः रजिस्ट्रेशन करने  का आदेश दिया है । इन सब परिस्थितियों में भी जहां गैर सरकारी संस्थानों /अस्पतालों द्वारा टीकाकरण सशुल्क किया जा रहा था तथा लोग टीका लगवा रहे थे उन संस्थानों /अस्पतालों में टीकाकरण को रोकना झारखंड सरकार की अदूरदर्शिता और उद्दंडता को दर्शाता है। झारखंड सरकार जिस प्रकार से यहां की जनता,संस्था,संस्थान के शोषण और दोहन में लगी हुई है इससे प्रतीत होता है कि यह सिर्फ और सिर्फ अपनी तिजोरी भरने के लिए ही सरकार में आई है। पिछली बार भी लॉकडाउन के समय जिस प्रकार से निजी स्कूलों के फीस देने को लेकर जनता विरोध कर रही थी उसे झारखंड सरकार के मंत्री महोदय ने अपना समर्थन देते हुए स्वयं स्कुल जाकर अपनी नतनी का पूरा फीस जमा किया यह दिखाने के लिए काफी था कि जब मंत्री ही स्कूल की फीस देगा तो आम जनता की फिर विरोध की औकात क्या ? उन्हें हर हाल में फीस देना ही होगा। अब फिर उसी तरह से झारखंड सरकार निजी संस्थानों /अस्पतालों से मात्र कुछ उगाही के कारण उनके द्वारा किए जा रहे वैक्सीनेशन को बंद कर रही है । क्या झारखंड सरकार को इतनी हिम्मत है कि वह निजी अस्पतालों /संस्थानो को हमेशा के लिए बंद कर दें ?क्या सरकार के पास प्रयाप्त व्यवस्था है ? जब खुद सरकार के नुमाइंदे अपना इलाज निजी अस्पतालों में कराते हैं, तब किस कारण से अभी के कोरोना संक्रमण महाकाल में ऐसे संस्थानों द्वारा किए जा रहे टीकाकरण को बंद किया गया है ?अभी के कोरोना संक्रमण काल में ऐसे संस्थानों/अस्पतालों द्वारा किए जा रहे टीकाकरण को बंद किया गया यह आश्चर्य का विषय है ? जहां पूरी दुनिया अपने नागरिकों को बचाने के लिए अधिक से अधिक मात्रा में किसी भी प्रकार से टीकाकरण करवाना चाह रही है , वहां झारखंड सरकार का यह मंदबुद्धि वाला निर्णय झारखंड की जनता के लिए पूर्णतया अहीतकारी तथा मृत्यु की ओर बढ़ाने वाला निर्णय है । मैं एक साधारण नागरिक के नाते झारखंड सरकार से सादर निवेदन करता हूँ कि वैक्सीनेशन  जो कहीं से भी हो सके हमें लेने दीजिए कहीं से भी वैक्सीनेशन यदि हो रहा है तो उसे बंद मत करिए। यदि  कुछ गलत हो रहा है  परेशानी हो रही है तो ऐसे संस्थानों/ अस्पतालों की जांच करिये, पड़ताल करीये, निगरानी करीये परंतु कोरोना महामारी को दूर करने वाला वैक्सीनेशन टीकाकरण कार्य को होने दीजिए इसे बंद मत करिए ।

No comments