सर्प दंश से महिला की मौत, परिजनों का रो-रो के बुरा हाल



सारठ : प्रखंड क्षेत्र के डिंडाकोली पंचायत के ओझाडीह-गंडा गांव निवासी 38 वर्षीय महिला की किसी विषैले सांप के काटने से बुधवार को मौत हो गई। घटना के संबंध में मृतक महिला के पति पागल पंडित ने बताया कि बीते मंगलवार की रात्रि में घर के सभी सदस्य खाना खाकर सो गये थे। तभी रात्रि तीन बजे के करीब पत्नी के हाथ में किसी विषैले सांप के काटने की बात कहने पर सभी लोग हड़बड़ाकर घर में उठ गये और सभी ने पूरे घर के चारो तरफ सांप को खोजने का प्रयास भी किया। लेकिन घर में कहीं कोई सांप नहीं दिखाई पड़ा। वहीं महिला धीरे-धीरे बेहोशी की स्थिति में आ गई। जिसके बाद परिजनों ने आनन-फानन में महिला को गांव में ही दुबे बाबा का मंदिर ले जाकर बाबा का नीर पिलाया और मंदिर प्रांगण में ही महिला को जमीन पर लिटाकर महिला के आधे शरीर को पानी में डुबाकर महिला के माथे पर पानी ढाला जा रहा था। कहा जाता है कि किसी विषैले सांप के काटने से ऐसा करने पर शरीर से जहर उतर जाता है। लेकिन घंटो बाद भी स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ और बुधवार दोपहर बाद महिला की मौत हो गई। महिला अपने पीछे पति के अलावे दो पुत्र व एक पुत्री को छोड़ गये है। वहीं घटना से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं बताया गया कि महिला अपने घर में जमीन पर ही सोयी थी और जहरीले सांप के काटने से ही मौत हो गई।

कोई टिप्पणी नहीं