अमित कुमार सिन्हा आईसीटी डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर ने स्कूल कोऑर्डिनेटर के साथ की रिव्यू मीटिंग



देवघर:स्कूलनेट इंडिया लिमिटेड के आईसीटी डिस्टिक कोऑर्डिनेटर अमित कुमार सिन्हा ने देवघर जिले के सभी 21 स्कूल के स्कूल कोऑर्डिनेटर के साथ रिव्यू मीटिंग किया, मीटिंग का उद्देश्य आईसीटी प्रोजेक्ट का अधिक से अधिक लाभ स्कूल के छात्र छात्राओं एवं स्कूल को मिल सके। मीटिंग में निम्नलिखित बिंदुओं पर चर्चा की गई और दिशा निर्देश दिए गए।पिछले एक सप्ताह में स्कूल कोऑर्डिनेटर द्वारा कराए गए आईसीटी क्लास की समीक्षा की गई। जिसने पाया गया कि क्रमशः स्कूल कोऑर्डिनेटर पंकज कुमार शर्मा, पवन कुमार राउत, साधन कुमार डे, मिथिलेश कुमार चौधरी, धीरज कुमार, अमित कुमार सिंह इत्यादि के द्वारा सबसे ज्यादा छात्र छात्राओं को आईसीटी लाइव क्लास का लाभ मिला।प्रत्येक बुधवार को आयोजित होने वाली आईसीटी की साप्ताहिक ऑनलाइन टेस्ट की समीक्षा की गई तो पाया गया कि सबसे ज्यादा छात्र छात्राएं क्रमशः श्री श्री मोहनानंद उच्च विद्यालय तपोवन, गोवर्धन साहित्य उच्च विद्यालय देवघर, मात्री मंदिर बालिका उच्च विद्यालय देवघर, और मित्र प्लस टू स्कूल देवघर प्लस टू स्कूल सारवां इत्यादि में भाग लिए। संबंधित विद्यालय के विद्यालय समन्वयको पवन कुमार राउत, अमित कुमार सिंह, पूनम कुमारी झा, जय किशोर शाही, नरेश प्रसाद वर्मा इत्यादि को बधाई दी गई एवं उनके सर्वोत्तम प्रदर्शन के लिए क्या क्या प्रयास किया गया इस पर चर्चा की गई ताकि अन्य स्कूल के भी स्कूल कोऑर्डिनेटर भी अपने स्कूल के ज्यादा से ज्यादा छात्र छात्राओं को ऑनलाइन क्लास एवं टेस्ट के लिए प्रोत्साहित कर सकें।अमित कुमार सिन्हा ने सभी स्कूल में चल रही ऑनलाइन एडमिशन, नए छात्र छात्राओं को व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ने, स्कूल के सब्जेक्ट टीचर को ऑनलाइन लाइव क्लास कराने, इत्यादि के संबंध में विस्तृत चर्चा की एवं आग्रह किया कि सभी स्कूल कोऑर्डिनेटर सब्जेक्ट टीचर को अपेक्षित टेक्निकल सपोर्ट तथा स्कूल को अपेक्षित सहयोग प्रदान करना सुनिश्चित करेंगे।रिव्यू मीटिंग में स्कूल नेट इंडिया लिमिटेड प्रोजेक्ट ऑफिस धनबाद से राजेश कुमार, मोतीलाल, देवघर के स्कूल कोऑर्डिनेटर सुबोध कुमार झा, जय किशोर शाही, चेतन कुमार, अमृत आनंद मिश्रा, धीरज कुमार, मोहम्मद परवेज आलम, अमित कुमार, संतन कुमार सिंह, प्रदीप कुमार, रमाकांत मंडल, नरेश प्रसाद वर्मा इत्यादि भी उपस्थित थे।

No comments