भुखमरी की स्थिति पर रिक्शा, ठेला, गुमटी चलाने वाले



देवघर।सर्वविदित है कि झारखंड में स्वस्थ सुरक्षा सप्ताह का चौथा खेल का अंतिम चरण चल रहा है। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सरकार महकमा पूरे सख्त लेकिन रिक्शा, ठेला, गुमटी चलाकर अपने परिवार का भरण पोषण करने वालों पर आर्थिक संकट का बादल मंडरा रहा है। जिस वजह से भूख से मरने की स्थिति उत्पन्न हो गई है। यहां तक की कोरोना वायरस के संक्रमण के भय से व्यवसाय, यात्री एवं कर्मचारियों का आना जाना बंद होने से छोटे-मोटे धंधा करने वाले पर कोरोना संक्रमण का बहुत बड़ा असर बढ़ रहा है, चाय दुकानों में भी सन्नाटा  फैला रहता है।अगर इस तरह की स्थिति और सुरक्षा सप्ताह का स्टेप बढ़ता रहेगा तो आने वाला समय में और भी भयावह स्थिति कोरोना संक्रमण से ज्यादा भुखमरी लोगों में देखा जा सकता है ।बरहाल वर्तमान समय में सरकार की ओर से ठेला, रिक्शा एवं गुमटी चलाने वालों के लिए कोई व्यवस्था नहीं किया गया है।वहीँ सवारी नहीं मिलने से लॉक डाउन में रिक्शा वालों की स्थिति काफी खराब हो गया है।सवारी नहीं मिलने से उनकी आर्थिक स्थिति काफी दयनीय हो गई है।जिससे उन्हें परिवार के भरण पोषण में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं