उपायुक्त ने नए सदर अस्पताल का निरीक्षक कर विभिन्न सुविधाओं व व्यस्थाओं का लिया जायजा



उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी  नैंसी सहाय ने नए सदर अस्पताल का निरीक्षण कर कोविड के रोकथाम व बचाव को लेकर किये जा रहे कार्यों के अलावा उपलब्ध सुविधाओं व व्यस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान उपायुक्त ने ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड की संख्या बढ़ाने के साथ दवाइयों व उपलब्ध संसाधनों को और भी दुरुस्त करने का निर्देश दिया। इस दौरान उपायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग की टीम व संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि कोविड-19 की दूसरी लहर में मरीजों की संख्या बहुत तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में ऑक्सीजन युक्त बेड, ऑक्सीजन सिलेंडर, वेंटिलेटर और आईसीयू की कमी को पूरा करने के अलावा बेडों की संख्या बढ़ाने के साथ ऑक्सीजन आपूर्ति को सामान्य बनाए रखना अति आवश्यक है, ताकि कोविड संक्रमित मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जा सके।

इसके अलावे उपायुक्त  नैंसी सहाय ने नए सदर अस्पताल का निरीक्षण कर कोविड से जुड़े इंतजाम और व्यस्थाओं के अलावा कोविड वैक्सीनशन को लेकर किए जा रहे कार्यों का जायजा लिया। साथ ही विभिन्न बिंदुओ व व्यस्थाओं को लेकर सिविल सर्जन को आवश्यक सभी सुविधाओं को दुरुस्त करने का निर्देश दिया।

■ वर्तमान में सेवा भाव व सहयोग की भावना से कार्य करने की है आवश्यकता:- उपायुक्त....

 इसके अलावे नए सदर अस्पताल का निरीक्षण करते हुए उपायुक्त  नैन्सी सहाय ने श्रील फाउंडेशन की समाजिक ईकाई द्वारा मरीजों व असहाय लोगों को दी जाने वाली 05 रुपये में रोटी-सब्जी कैंटिन की सुविधा को लेकर आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि इनके द्वारा सेवा भाव से किया जा रहा  यह कार्य वाकई में सराहनीय व अनुकरणीय है। वर्तमान में कोविड-19 संक्रमण काल को देखते हुए आवश्यकता है कि अन्य समाजसेवी व प्रबुद्ध वर्ग के लोग इसी प्रकार आगे आएं और गरीब व असहाय लोगों की यथासंभव मदद कर समाज के उत्थान में अपना सहयोग दें।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे सिविल सर्जन  युगल किशोर चौधिरी, चिकित्सकों व स्वास्थ्य कर्मियों की टीम, डॉ विभु, डॉ मनीष, डीपीएम नीरज भगत एवं संबंधित विभाग के अधिकारी व कर्मी आदि उपस्थित थे।

No comments