श्रमिक स्पेशल ट्रेन से सूरत से 66 श्रमिक मधुपुर स्टेशन पहुंचे



श्रमिक स्पेशल ट्रेन से शुक्रवार रात को सूरत से 66 प्रवासी मजदुर मधुपुर स्टेशन पहुंचे । यहां पर जिला प्रशासन ने श्रमिकों की स्टेशन पर थर्मल स्क्रीनिंग, मास्क, सैनिटाइजर आदि जांच समेत उनके जिले पहुंचाने के लिए के लिए सारी तैयारी किया था । ट्रेन से उतरे देवघर जिले के छहः यात्री को एंटीजन किट से कोरोना जांच के बाद मधुपुर के राजा भीठा मोहल्ला स्थित पॉलिटेक्निक कॉलेज में देवघर जिले के पांच यात्रियों को 7 दिन के लिए क्वारंटाइन कर दिया गया । जबकि गिरिडीह जिले  49  व दो बिहार समेत संताल परगना के अन्य जिले के श्रमिकों को वहां का प्रशासन स्वास्थ जांच के बाद सात दिन का क्वारटीन करेगा I  बिहार के दो प्रवासी मजदूर को जिला पंरिवहन विभाग ने (बस) वाहन के द्वारा झारखंड बिहार की सीमा पर वहां के प्रशासन को सौंप दिया गया । स्टेशन पर सुरक्षा के दृष्टिकोण से प्रशासन ने ब्रैकेटिंग किया था । ताकि मजदूर दूसरे रास्ते से स्टेशन के बाहर  निकल ना जाए । मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी योगेंद्र प्रसाद, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी विनोद रवानी के नेतृत्व में रेल थाना प्रभारी हरेराम दुबे, पुलिस इंस्पेक्टर इंचार्ज मनोज कुमार मल्लिक, अंचल पुलिस निरीक्षक रामदयाल मुंडा,  आरपीएफ इंचार्ज देवनाथ, स्टेशन प्रबंधक एसके पाठक, प्रतिनिधि समेत प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी,अतिरिक्त पुलिस बल स्वास्थ्य कर्मी स्टेशन पर प्रवासी मजदूर को ट्रेन से कतार वाद उतार कर बस तक पहुंचाने क्या काम किया । जानकारी के अनुसार 2 दिन पूर्व जिले के उपायुक्त में स्पेशल ट्रेन से मधुपुर स्टेशन पर प्रवासी मजदूर उतरने आने की सूचना पर उन्होंने स्टेशन का निरीक्षण किया था । ट्रेन से उतरने वाले श्रमिकों को स्टेशन से बाहर निकलकर वाहन में सवार करने आदि थर्मल स्क्रीनिंग आदि जांच की जांच को लेकर आवश्यक निर्देश दिए थे । उस समय जिला प्रशासन को सूचना मिली थी कि तकरीबन 17 सौ श्रमिक ट्रेन से उतरने वाले हैं । लेकिन ट्रेन सूरत से हटिया पहुंचने के क्रम में रांची व अन्य स्टेशन पर मजदूर उतर गए ।

No comments