एक अप्रैल को सहपाठियों को मूर्ख बनाने में मजा आता है : आराध्या



देवघर  : स्थानीय ब्राइट कैरियर स्कूल की छात्रा आराध्या कुमारी ने अप्रैल फूल डे के संदर्भ में जानकारी देते हुए कहा- एक अप्रैल को अप्रैल फूल डे मनाया जाता है। इसे मूर्ख दिवस भी कहा जाता है। इस दिन लोग अपने मित्रों और सगे-सम्बन्धियों को मूर्ख बनाकर खुश होते हैं। मुझे भी अपने सहपाठियों को मूर्ख बनाने में मजा आता है। यह दिवस केवल भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में मनाया जाता है। कुछ देशों में एक अप्रैल को छुट्टी होती है। इस दिन हर तरह का मजाक करने की छूट होती है। इस मौके पर जिनके साथ मजाक होता है वह बुरा भी नहीं मानते। यह दिवस अलग-अलग देशों में विभिन्न प्रकार से मनाया जाता है। कुछ देशों- आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका और ब्रिटेन में अप्रैल फूल डे केवल दोपहर तक मनाया जाता है। इन देशों में अप्रैल फूल डे दोपहर तक मनाए जाने के पीछे यह वजह है कि यहां के अखबार केवल सुबह के अंक में मुख्य पेज पर अप्रैल फूल डे से जुड़े विचार रखते हैं। जबकि कुछ देशों- जापान, रूस, आयरलैंड, इटली और ब्राजील में पूरे दिन मूर्ख दिवस मनाया जाता है। कुछ लोगों का मानना है कि फ्रेंच कैलेंडर में होने वाला बदलाव भी अप्रैल फूल डे मनाने का कारण हो सकता है। वहीं कुछ लोग मानते हैं कि इंग्लैंड के राजा रिचर्ड द्वितीय की एनी से सगाई के कारण अप्रैल फूल डे मनाया जाता है। कुछ लोग इसे हिलारिया त्यौहार से भी जोड़ कर देखते हैं। दुनिया में कई ऐसे देश भी हैं जहां अप्रैल फूल डे तो मनाया ही जाता है।

No comments