रीक्रिएशन संस्था ने मुख्यमंत्री से मधुपुर में रक्त संग्रहण अधिकोष की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन



मधुपुर में रक्त संग्रहण/रक्त अधिकोष की मांग को लेकर पिछले 7 महीनों से लगातार प्रयाश किया जा रहा है। इसी क्रम में रिक्रिएशन संस्था और टीम ने अनुमंडल पदाधिकारी और सिविल सर्जन के अलावे तात्कालिक  विधायक सह मंत्री को भी ज्ञापन दिया था, जिसमे मधुपुर अनुमंडल अस्पताल में रक्त संग्रहण /रक्त अधिकोष की मांग की गई थी | देवघर सिविल सर्जन और ड्रग इंस्पेक्टर द्वारा अनुमंडल अस्पताल का निरीक्षण भी किया गया था और इससे संबंधित तकनीकी समस्या को दूर करते हुए संबंधित व्यक्ति को इस संदर्भ में प्रशिक्षण भी दिया गया । सारी व्यवस्था और सारे इक्यूपमेंट  होने के बावजूद भी आज तक मधुपुर में रक्त संग्रहण की प्रक्रिया शुरू नहीं की जा सकी। मामला कहां अटका है यह समझ से परे दिखाई दे रहा था। रिक्रिएशन संस्था की टीम और रक्तदान के क्षेत्र में  सक्रिय भूमिका निभाने वाले कुछ युवाओं ने मिलकर झारखंड के मुख्यमंत्री माननीय श्री हेमंत सोरेन के समक्ष एक ज्ञापन सौंपा और उसमें इस पूरे मामले को दर्शाते हुए मधुपुर अनुमंडल अस्पताल में रक्त संग्रहण/रक्त अधिकोष  की व्यवस्था को अविलंब चालू करने की मांग की गई ताकि आए दिन गरीबों को रक्त के लिए निजी पैथोलैब में अच्छी उगाही का शिकार ना बनना पड़े।

संस्था के अजय पाठक ने बताया कि मधुपुर जैसे छोटे से शहर में आसपास के गांव के सभी मरीज इलाज कराने के लिए आते हैं और जिन्हें भी रक्त की जरूरत होती है उनके लिए यहां के एक नहीं सैकड़ों युवा तैयार हो जाते हैं पर उनके इस जुझारू पन का फायदा यहां के लोकल पैथोलैब को होता है वह मरीजों से इसके लिए अच्छी उगाही करते हैं । उन्होंने माननीय मुख्यमंत्री महोदय से कहा कि अगर इस दिशा में उनके द्वारा पहल होती है और यहां पर रक्त संग्रहण या रक्त अधिक की व्यवस्था होती है तो यहां के मरीजों को रक्त की कमी की समस्या से निदान तो मिलेगा ही साथ ही रक्तदान क्षेत्र में अग्रसर रहने वाले युवाओं का भी हौसला बढ़ेगा। माननीय मुख्यमंत्री महोदय ने इस दिशा में जल्द से जल्द पहल करने का आश्वासन भी दिया। कार्यक्रम में रक्तवीर माने जाने वाले सागर जयसवाल, मनोरंजन सिन्हा, अमृत आनंद, सुदामा यादव ,नीरज ठाकुर शामिल रहे।

No comments