सारवां प्रखंड मुख्यालय परिसर में सेविकाओं की संघ की बैठक का आयोजन



सारवां  प्रखंड मुख्यालय परिसर में सेविकाओं की संघ की बैठक का आयोजन किया गया इस अवसर पर विभाग व कर्मी के कार्यशैली से परेशान सेविकाओं ने विभिन्न विषयों पर विचार विमर्श करते हुए आगे की रणनीति को तैयार किया मौके पर सेविकाओं ने बताया कि बाल विकास परियोजना कार्यालय में कार्यरत महिला पर्यवेक्षिका द्वारा क्षेत्र के सेविकाओं के साथ अभद्र व्यवहार करती हुई मानसिक प्रताड़ित किया करते हैं जिससे तंग आकर सेविकाओं ने बाल विकास परियोजना कार्यालय में 1 सप्ताह पूर्व लिखित शिकायत कर कार्यवाही की मांग की थी लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण अब तक विभाग द्वारा किसी प्रकार का इस दिशा संतोषजनक कार्यवाही नहीं करने से नाराजगी जाहिर की बैठक के माध्यम से लोगों ने प्रस्ताव लिया कि अभी बाल विकास परियोजना कार्यालय सातवा के द्वारा इस तरह की रवैया अपनाई जाएगी तो वह लोग जिला स्तर पर धरना प्रदर्शन करते हुए उनके स्थानांतरण की मांग करेंगे साथ ही लोगों ने बताया कि पिछले वर्ष दो हजार अट्ठारह में 2 माह का, 2019 में 2 माह का 2020 में जनवरी माह का सहित सुपोषण दिवस को लेकर विभाग द्वारा घोषित प्रोत्साहन राशि का आज तक भुगतान नहीं किया गया कुल मिलाकर विभाग के कर्मी सेविकाओं को प्रताड़ित करने का कार्य करते हैं अनावश्यक कार्यों का जवाब देने का कार्य करते हैं एक तरफ जहां महिलाओं को सशक्त करने की बात कही जाती है वहीं दूसरी ओर महिलाओं का शोषण विभाग कर रही है लेकिन इसे देखने वाला और सुनने वाला शिकायत के बाद भी कोई नहीं है कहा इस पर कार्यवाही नहीं होती है तो वह लोग चरणबद्ध आंदोलन के लिए बाध्य होंगे इस अवसर पर प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न सुविधाएं मौके पर उपस्थित थे

No comments