राज्य सरकार द्वारा निर्धारित दर का उल्लंघन करने पर निजी अस्पताल,जांच घर पर होगी सख्त कार्रवाई -उपायुक्त



देवघर -उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री द्वारा जानकारी दी गई है कि देवघर जिले में कोबिड 19 के मामलों की संख्या में निरंतर वृद्धि देखी जा रही हैं। ऐसे में कई निजी अस्पताल व जांच घर इस आपदा को अवसर में बदलने में लगे हुए है।

ऐसे में लोगों की स्वास्थ्य सुविधा को ध्यान में रखते हुए सुलभ,सस्ती और न्याय संगत व्यवस्था सुनिश्चित करने एवं रोगी की जेब से होने वाले खर्च को कम करने के उद्देश्य से राज्य सरकार द्वारा उच्च संकल्प संगणित टोमोग्राफी की निदान में संभावित भूमिका विशेष रूप से आरटी पीसीआर नकारात्मक मामलों के साथ-साथ अन्य मामलों में भी जटिलताओं का पता लगाने, और कोबिड 19 मामलों के पूर्वानुमान के तहत, राज्य सेटअप में एचआर सिटी  की अधिकतम दर को 16 स्लाइस मशीन में 25 सो रुपये करने का निर्णय लिया गया है।

यह 16 से 64 स्लाइस मशीन में अधिकतम 27 सो 50 रुपये और 64 से 256 स्लाइस मशीन में अधिकतम 3 हजार रुपये तक बढ़ सकता है। इसमें पीपीई किट की लागत और यदि आवश्यक हो तो स्वच्छता भी शामिल होगी। 

ऐसे में वर्तमान में चल रहे महामारी और सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल को ध्यान में रखते हुए देवघर जिले में कार्यरत सभी रेडियोलॉजिकल,इमेजिंग,सोनोलॉजी केंद्रों को निर्देश दिया गया है कि वे अब एचआरसीटी की उपरोक्त दर का शत प्रतिशत पालन करना सुनिश्चित करेंगें। 

साथ ही सभी का यह प्रयास हो कि कोविड संक्रमित मरीजों का बेहतर इलाज हो और उन्हें आर्थिक बोझ न सहना पड़े। इसके बाद भी यदि कोई अस्पताल या जांच घर नियमों का उल्लंघन करते हुए पाया गया तो, सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

बताते चलें कि उसी क्रम में विते दिनों शहर के एक प्रतिष्ठित जांच केंद्र में उचित तय दर से ज्यादा पैसा लेने की शिकायत पर कार्यवाही करते हुए डायग्नोस्टिक सेंटर को सील किया गया है।

No comments