आपसी समन्वय व बेहतर तालमेल के साथ करें कार्यः-उपायुक्त



 कोरोना संक्रमण के प्रकोप को देखते हुए उपायुक्त-सह-जिला दण्डाधिकारी  नैंसी सहाय की अध्यक्षता में कोविड-19 के रोकथाम और संक्रमित व्यक्तियों के स्वास्थ्य संबंधी तैयारियों यथा बेड की आवश्यकता, ऑक्सीजन की व्यवस्था, आईसीयू बेड की उपलब्धता को लेकर आज दिनांक 27.04.2021 को देवघर परिसदन सभागार में बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान उपायुक्त ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के बढ़ते खतरे को देखते हुए सबसे महत्वपूर्ण है कि अपने स्वास्थ्य सुरक्षा को देखते हुए दूसरों को सतर्क,  सावधान व जागरूक करना, ऐसे में सभी अस्पतालों में बेड, आईसीयू, ऑक्सीजन, दवाई आदि की उपलब्धता को पूर्ण रूप से सुनिश्चित करने की आवश्यकता है, ताकि लोगों को समुचित स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जा सके।

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त ने उपलब्ध संसाधन को बेहतर और व्यवस्थित करने के अलावा कोविड से जुड़े विभिन्न विषयों पर विस्तृत चर्चा करते हुए संबंधित अधिकारियों व स्वास्थ्य विभाग की टीम को आपसी समन्वय व टीम भावना के साथ कार्य करने का निर्देश दिया, ताकि लोगों को आवश्यक सुविधा तय समय अनुसार उपलब्ध कराई जा सके। 

समीक्षा बैठक के क्रम में उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निदेशीत करते हुए कहा कि संक्रमित मरीजों की संख्या को देखते हुए जिले के सभी कोविड केयर सेंटर, के साथ-साथ मां ललिता हाॅस्पिटल में चिकित्सक, ए०एन०एम० स्वास्थ्यकर्मी की प्रतिनियुक्ति की संख्या बढ़ाने की आवश्यकता है। साथ ही उन्होंने सिविल सर्जन को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि जितने भी बाहर से आने वाले लोग हैं उन्हें होम क्वॉरेंटाइन में भेजा जाए एवं उनकी पूरी विवरणी मोबाइल नंबर के साथ संधारित रखें ताकि आवश्यकता पड़ने पर दोनों ओर से संपर्क साधा जा सके। 

इस दौरान उपायुक्त द्वारा जिले में टेस्टिंग व वैक्सिन के अलावा कोरोना संक्रमण के तहत किये जा रहे कार्यो यथा- संक्रमित मरीज की जाँच, उनका इलाज, आईसोलेशन सेंटर व क्वारंटाइन सेंटर की सुविधा, संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आये लोगो की ट्रेसिंग एवं जिले में चल रहे कोरोना से संबंधित स्वास्थ्य जांच के अलावे स्वास्थ्य विभाग द्वारा किये जा रहे कार्यों की वास्तुस्थिति से अवगत हुए। साथ ही समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निदेशित किया कि जिले में कोरोना जांच की संख्या में तेजी लाए साथ ही जांच रिपोर्ट को भी अपडेट रखें। वैसे व्यक्ति जी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आये हो उनको चिन्हित करते हूए सभी व्यक्तियों के जांच हेतु और अधिक टीम का गठन किया जाय ताकि जल्द से जल्द कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आये व्यक्तियों को चिन्हित कर जांच किया जा सके।

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निदेशित किया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी गाईडलाईन के अनुरूप कोविड केयर हॉस्पिटल में इम्युनिटी बूस्टर से संबंधित सारी सामग्रियों की पर्याप्त व्यवस्था रखे। सबसे महत्वपूर्ण वर्तमान में जिले में स्वास्थ्य टीम का गठन कर रैंडम जांच किया जाय, ताकि समय रहते जिले में कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। 

■ कोविड नियमों के अनुपालन के साथ साफ-सफाई के साथ मास्क और सामाजिक दूरी का अनुपालन सभी करें सुनिश्चित- उपायुक्त....

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त  नैंसी सहाय ने सूचना जनसम्पर्क विभाग के अधिकारियों को निदेशित किया कि वर्तमान समय में जागरूकता व प्रचार-प्रसार की आवश्यकता को देखते हुए इसे बेहतर तरीके से निष्पादित करें, माईकिंग, बैनर-पोस्टर, सोशल मीडिया आदि के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा लोगों को कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूक किया जा सके।

बैठक में उपरोक्त के अलावे सिविल सर्जन डाॅ0 युगल किशोर चौधरी, उप विकास आयुक्त संजय सिन्हा, नगर आयुक्त  शैलेन्द्र कुमार लाल, अनुमंडल पदाधिकारी, देवघर  दिनेश कुमार यादव, अनुमंडल पदाधिकारी, मधुपुर  नीरज कुमार सिंह, डीआरडीए निदेशक  नयनतारा केरकेट्टा, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी  उमा शंकर प्रसाद, जिला परिवहन पदाधिकारी  फिलब्यूस बारला, जिला आपूर्ति पदाधिकारी  विशालदीप खलखो, जिला पंचायतीराज पदाधिकारी  परमेश्वर मुंडा, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी श्री रवि कुमार, जिला कल्याण पदाधिकारी सुश्री मीनाक्षी भगत, प्रभारी पदाधिकारी गोपनीय शाखा श्री विवेक कुमार, डाॅ0 विभू, सहायक जनसम्पर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी, डाॅ0 मनीष  आदि उपस्थित थे।

No comments