कालीपुर मोड़ पर बनाया गया सामुदायिक शौचालय किसी काम का नहीं



देवघर- नगर निगम के वार्ड नंबर 6 के कालीपुर मोड़ पर लाखों की लागत से सामुदायिक शौचालय का निर्माण नगर विकास एवं आवास विभाग द्वारा बनवाया गया था जिसका उद्घाटन 11 मार्च 2017 को किया गया था। लेकिन देखरेख के अभाव में सामुदायिक शौचालय  शोभा की वस्तु बनी हुई है।

सामुदायिक शौचालय के आसपास निवास कर रहे लोगों और यात्रियों को मजबूर होकर खुले में शौचालय जाना पड़ रहा है।स्थानीय लोगों ने इसके बारे में बताया कि जब से सामुदायिक शौचालय का निर्माण हुआ है तब से शौचालय में पानी की किल्लत है इसकी शिकायत मौखिक रूप से वार्ड नंबर 6 के वार्ड पार्षद से भी किया गया है लेकिन किसी भी तरह का वैकल्पिक व्यवस्था नहीं किया गया। 

लगभग साल भर से ऐसी स्थिति बनी हुई है ।यहां तक लोगों ने बताया कि सिर्फ सावन माह मैं ही शौचालय चलता है।कालीपूर मोड़ के आसपास दर्जनों की संख्या में दुकान है मुख्य सड़क से बाईपास रोड दर्दमारा तक जाता है।बाईपास रोड होने से दर्जनों की संख्या में रात दिन बड़े छोटे वाहनों का परिचालन होते रहता है।

शौचालय देखते ही लोग रुकते हैं और शौच के लिए शौचालय के पास जाते हैं और विदक जाते हैं क्योंकि शौचालय में किसी भी तरह की व्यवस्था नहीं देखते हैं जिससे सामुदायिक शौचालय के आसपास का क्षेत्र प्रदूषित रहता है।

सबसे बड़ी बात यह है कि सामुदायिक शौचालय का शिलान्यास गोड्डा लोकसभा सांसद निशिकांत दुबे, देवघर नगर निगम के महापौर रीता राज एवं विधायक नारायण दास के सौजन्य से किया गया था। 

बरहाल सामुदायिक शौचालय की स्थिति बदतर होने से आसपास का क्षेत्र दुर्गंध युक्त बना हुआ है। इतना ही नहीं डाबर ग्राम के पास भी सामुदायिक शौचालय की स्थिति कमोबेश यही है  केवल सामुदायिक शौचालय चौक चौराहों पर बना है ।जिसमें लाखों लाख रुपैया खर्च किए गए। लेकिन इसका सही उपयोग नहीं हो पा रहा है।

No comments