राजकीय श्रावणी मेला को लेकर की जाने वाली तैयारियों की विभागवार समीक्षा के दौरान उपायुक्त संबंधित अधिकारियों को दिये आवश्यक दिशा-निर्देश



दिनांक-01.04.2021 को उपायुक्त-सह-जिला दण्डाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में राजकीय श्रावणी मेला, 2021 के सफल क्रियान्वयन हेतु विभिन्न विभागों द्वारा की जाने वाली तैयारियों व व्यवस्थाओं को लेकर विस्तृत समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक के दौरान उपायुक्त ने अधिकारियों को स्पष्ट निदेश दिया कि राजकीय श्रावणी मेला की शुरूआत से ठीक पहले बंग्ला सावन ऐसे में सारी तैयारियों को जुलाई के प्रथम सप्ताह तक तक पूरी तरह से पूर्ण कर लें। इस दौरान मेला से संबंधित सभी विभागों के कार्यशैली की बिन्दुवार समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीमित संख्या में श्रद्धालुओं के जलार्पण हेतु आॅनलाईन रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था के अलावा कोविड निगेटिव रिपोर्ट की अनिवार्यता को लागू करने पर विस्तृत चर्चा करते हुए उपायुक्त ने आवश्यक तैयारियों को प्रारूप बनाने का निदेश संबंधित विभाग के वरीय अधिकारियों को दिया।

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि राजकीय श्रावणी मेला के दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालु देश-विदेश से बाबा बैद्यनाथधाम पहुँचते हैं। ऐसे में श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो इस बात का विशेष ध्यान रखेंगें। विभागों के बिन्दुवार समीक्षा के पश्चात उन्होंने सभी संबंधित विभाग के अधिकारियों को निदेशित किया कि मेला के दौरान श्रद्धालुओं के लिए अपने-अपने विभाग द्वारा की जाने वाली व्यवस्थाओं को पिछले वर्ष की अपेक्षा और भी बेहतर बनाने का प्रयास करें। बैठक में उपायुक्त द्वारा निदेशित किया कि बाबा मंदिर परिसर के आसपास श्रद्धा व भक्ति से जुड़े हुए विज्ञापनों या बैनर पोस्टरों को प्रदर्शित करने की आवश्यकता है, बेवजह या श्रद्धालुओं की श्रद्धा को ठेस पहंुचाने वाले विज्ञापनों को अविलंब मंदिर व आस पास के क्षेत्र से अविलंब हटाने का निर्देश मंदिर प्रभारी को दिया, ताकि बाबा मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं को सही मायने में एक बेहतर अनुभूति प्रदान की जा सके।

इसके अलावे समीक्षा के क्रम में उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि मेला से पूर्व मंदिर के सभी ए0सी0 की जांच अच्छी तरह से कर लें, ताकि मेला के दौरान किसी तरह की परेशानी न हो। बैठक के क्रम मे पथ निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए उपायुक्त द्वारा निदेशित किया गया कि श्रावणी मेला से जुड़े सभी सड़कों का कार्य मेले से पहले दुरस्त कर लिया जाय एवं सड़कों के किनारे सौंदर्यीकरण के कार्य को भी पूर्ण लिया जाय, ताकि वाहन से आने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की कठिनाई न हो। ट्रैफिक व्यवस्था को दुरूस्त करने के लिए पार्किंग की समुचित व्यवस्था एवं मेला क्षेत्र में ट्रैफिक हवलदारों की नियुक्ति पर भी विशेष ध्यान देने को कहा, जिससे ट्रैफिक व्यवस्था को भी सुदृढ़ किया जा सके। बैठक के दौरान उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजंत्री ने राष्ट्रीय उच्च पथ प्रमण्डल को निदेशित किया गया कि श्रावणी मेला क्षेत्र सें जुड़ी सभी सड़कों को दुरूस्त कर लें एवं मरम्मतिकरण के साथ-साथ सड़क के सौंदर्यीकरण एवं रोड साईनेज पर भी विशेष ध्यान देते हुए सभी कार्य को ससमय पूर्ण कर लें। इसके अलावे भवन निर्माण के कार्यों की समीक्षा करते हुए उपायुक्त द्वारा कहा गया कि कांवरिया रूटलाईन के सभी यात्री शेड और सरकारी भवनों की मरम्मति एवं सौंदर्यीकरण का कार्य भी मेले से पहले पूर्ण कर लिया जाय। इसके अलावे उन्होंने श्रावणी मेले में बनने वाले अस्थाई ओपी हेतु उपलब्ध जमीन वाले स्थलों पर ओपी0 हेतु भवन निर्माण तथा पुलिस फोर्स के ठहराव के लिए फोर्स के आवासन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। साथ हीं मेले में अन्य विभाग से भी आये हुए अधिकारियों एवं कर्मचारियों के ठहराव की समुचित व्यवस्था सुदृढ़ तरीके से करने का निदेश दिया गया।

■ बढ़ती गर्मी को देखते हुए पेयजल, शौचालय व स्नानागार की व्यवस्था को 24x7 दुरूस्त रखने की आवश्यकताः-उपायुक्त....

इसके अलावा श्रावणी मेले के दौरान किये जाने वाले कार्यों की समीक्षा के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि गर्मी को देखते हुए पेयजल की सुदृढ़ व्यवस्था के साथ-साथ रूटलाईन में इंद्र वर्षा व वरूण वर्षा के साथ-साथ ट्रैक्टर के माध्यम से पानी छिड़काव की व्यापक व्यवस्था की जाय। साथ हीं उपायुक्त द्वारा संबंधित विभाग के अधिकारी को निदेशित किया कि मंदिर के आस-पास व कांवरिया पथ में जहां धूप से बचाव हेतु शेड/पंडाल की व्यवस्था न हो वहां पर कार्पेट की व्यवस्था की जाय, ताकि श्रद्धालुओं को गर्मी में चलने में असुविधा न हो। इसके अलावे उन्होंने शिवगंगा के चारों तरफ कपड़े बदलने के लिए शेड का निर्माण एवं शिवगंगा के चारों और सौंदर्यीकरण कार्य के साथ शिवगंगा तालाब की सफाई जल्द से जल्द कराने का निदेश दिया। मेला परिसर में शौचालय, बायोटाॅयलेट व स्नानागार की समुचित व बेहतर व्यवस्था के साथ इसकी सफाई के लिए दो पालियों में कर्मियों को नियुक्त करने का निदेश दिया गया। 

इसके अलावे उन्होंने मेला के दौरान विद्युत व्यवस्था को सुदृढ़ करने के साथ-साथ सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में चैबिसों घंटे बिजली व्यवस्था की समुचित व्यवस्था हेतु जल्द से जल्द सभी पोल, तार आदि के मरम्मतिकरण के कार्य को पूरा करने का निदेश संबंधित अधिकारी को दिया। वहीं नगर निगम के कार्यों की समीक्षा के दौरान उपायुक्त द्वारा निदेश दिया गया कि शिवगंगा पथ एवं इसके आस-पास पेभर्स बिछाने के कार्य तथा बाघमारा बस स्टैंड के साथ-साथ घोरमारा में भी वाहनों के ठहराव की व्यवस्था करने की बात कही गयी। नन्दन पहाड़ तालाब के सौंदर्यीकरण का कार्य मेले से पहले पूर्ण कर लिया जाय तथा सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था चैबीसों घंटे रहे इस बात का खासा ख्याल रखा जाय, जिससे आने वाले श्रद्धालुओं को एक नई अनुभूति प्राप्त हो। तत्पश्चात् स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने कहा कि मंदिर के समीप पूर्व की भाँति इस वर्ष भी सुविधा केन्द्र में ट्राॅमा सेंटर की व्यवस्था की जाय। इससे श्रद्धालुओं को समुचित सुविधा मंदिर समीप हीं मिलेगी। मौके पर मौजूद सिविल सर्जन को उपायुक्त द्वारा निदेशित किया गया कि ट्राॅमा सेंटर में विद्युत व्यवस्था की सुदृढ़ता एवं जलापूर्ति की व्यवस्था के साथ-साथ आई0सी0यू0 से संबंधित भेंटीलेटर, मशीन उपकरण, दवाईयाँ आदि की उपलब्धता सुनिश्चित करायी जायय ताकि किसी भी स्वास्थ्य से संबंधित आपातकालीन स्थिति से तत्काल निपटा जा सके। इसके अलावा मेला क्षेत्र में अस्थायी स्वास्थ्य केन्द्रों में भी पूरी व्यवस्था हो इस बात पर विशेष ध्यान दें। 

■ सूचना केन्द्रों को हाईटेक व एक्टिव बनाने का निर्देशः-उपायुक्त....

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने श्रद्धालुओं की सुविधओं को देखते हुए संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि सूचना केन्द्र के माध्यम से श्रद्धालुओं को मिलने वाली व्यवस्थाओं को और भी सुदृढ़ करते हुए खोया-पाया के साथ-साथ कन्या भू्रण हत्या, लिंगानुपात, देवघर मार्ट वेबसाईट के साथ-साथ आवश्यक प्रचार-प्रसार सुचारू व व्यवस्थित रूप से कराने का निदेश दिया। वहीं बैठक के दौरान उपायुक्त ने मेला क्षेत्र में खाद्य आपूर्ति से जुड़े सामानों की बिक्री को ध्यान में रखते हुए उसकी गुणवता को बनाये रखने उदेश्य से टीम गठित कर सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में लगातार सैम्पल कलेक्शन व छापेमारी अभियान लगातार करते रहें, ताकि खाद्य आपूर्ति से जुड़े सामानों की गुणवता मेला क्षेत्र में बनी रहे।

तत्पश्चात उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री द्वारा संबंधित विभाग के सभी अधिकारियों को निदेशित किया गया कि अभी से हीं श्रावणी मेले की तैयारियों में जुट जायें, ताकि मेले की व्यवस्था में किसी प्रकार की कमी न रह जाय। साथ हीं उन्होंने कहा कि सभी अपने-अपने विभाग को अभी से हीं पत्राचार कर मेले से जुड़ी आवंटन राशि की कमी को पूरा कर लें। उन्होंने सभी विभागों को आपसी सामंजश बिठाकर कार्य करने का निदेश दिया गया, जिससे कि श्रावणी मेले में आए हुए सभी श्रद्धालुओं को देवनगरी आने की एक अच्छी अनुभूति मिल सके। साथ हीं उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने पूरे कांवरिया रूटलाईन की वस्तुस्थिति की जानकारी लेते हुए रूटलाईन में बालू बिछाव पर विशेष ध्यान देने का निदेश दिया एवं मेहिन बालू का हीं प्रयोग पूरे रूटलाईन में करने का निदेश दिया गया, उन्होंने कहा कि पैदल आने वाले श्रद्धालुओं को ज्यादा कठिनाईयों का सामना न करना पड़े।

बैठक में उपरोक्त के अलावे नगर आयुक्त शैलेन्द्र कुमार लाल, मंदिर प्रभारी-सह-अनुमंडल पदाधिकारी  दिनेश कुमार यादव, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी  रवि कुमार, कार्यपालक अभियन्ता, विद्युत आपूर्ति प्रमंडल, कार्यपालक अभियन्ता, विद्युत संचरण प्रमंडल, कार्यपालक अभियन्ता, विद्युत कार्य प्रमंडल, धनबाद, कार्यपालक अभियन्ता, पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल, कार्यपालक अभियन्ता, ग्रामीण कार्य प्रमंडल,  कार्यपालक अभियन्ता, ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल, कार्यपालक अभियन्ता, पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल, कार्यपालक अभियन्ता, भवन प्रमंडल, कार्यपालक अभियन्ता, भवन निर्माण निगम, कार्यपालक अभियन्ता, पथ एन०एच० प्रमंडल, जिला योजना पदाधिकारी-सह-सचिव, लॉजिंग हाउस कमिटि, देवघर असैनिक शल्य चिकित्सक-सह-मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, प्रभारी पदाधिकारी गोपनीय शाखा  विवेक कुमार, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी श्री मंगल सिंह जामुदा, जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी, सहायक जनसम्पर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी, मुख्य प्रबन्धक, बाबा बैद्यनाथ मंदिर, देवघर एवं संबंधित विभाग अधिकारी आदि उपस्थित थे।

No comments