झारखंड राज्य की जनता कोरोना से है बेहाल प्रदेश के मुख्यमंत्री मधुपुर में चैन की नींद सो रहे हैं (पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी!)



मधुपुर  शहर के 52 व्यवस्थित मंगलम रिसोर्ट  में भाजपा विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पत्रकारों को बताया  कि राज्य में कोरोना महामारी तेजी से पांव पसार रही है और वर्तमान मुख्यमंत्री मधुपुर में आराम की नींद  सो रहे हैं। राज्य के लोगों की चिंता नहीं है मुख्यमंत्री को चाहिए कम से कम वहां कोई हाई स्कूल वगैरह होता है वहां बिजली पानी की व्यवस्था ठीक से शौचालय वगैरा के उसको भी कॉविड सेंटर घोषित करनी चाहिए जिला स्तर पर तो कई संस्थान रहती हैं प्राइवेट अस्पताल भी होते हैं और कॉलेज वगैरा भी है तो उन सारी चीजों को वह कोविड- सेंटर घोषित करके  जो भी जिला के केंद्रों पर डॉक्टर रहते हैं  सरकारी भी है और  प्राइवेट भी तो सभी को इस कोरोना काल में युद्ध स्तर पर लगानी चाहिए और प्रोटेक्शन की सामग्री सरकार को खरीदनी चाहिए प्राइवेट डॉक्टर हो या प्राइवेट पैरामेडिकल  स्टाफ को इस काम में लगाया जाना चाहि कोरोना की रफ्तार बढ़ रहा है भैयावाह स्थिति हो रहा है। यही स्थिति रही तो हम लोग कभी यूरोपियन कंट्री के सुनते थे जैसे अमेरिका जैसे विकसित देशों की  लोग सुनते थे  तो यह झारखंड पूरी तरह से तबाह हो जाएंगे और सरकार बिल्कुल सिर्फ घोषणा कर रही है कागज में सिर्फ  प्रसारित कर रही हम यह कर रहे हैं उसकी देखरेख नहीं हो रही है और झारखंड के मुख्यमंत्री मधुपुर में डेरा डाले हुए हैं उनके पास हेलीकॉप्टर की भी सुविधा है यहां से चाहे तो हेलीकॉप्टर से शाम को वापस रांची पहुंच कर वहां की हालात खुद जाकर देख ले मौके पर निरसा विधायक अर्पणा सेन गुप्ता प्रदेश प्रवक्ता प्रदीप सिंह देवघर जिला महामंत्री अधीर चंद्र भैया, दीनू यादव मौजूद थे!

No comments