जिलावासियों की स्वास्थ्य सुरक्षा को देखते हुए आगामी 22.04.2021 से 29.04.2021 तक बाबा मंदिर का पट श्रद्धालुओं हेतु बंद:- उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी



उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री द्वारा जानकारी दी गई है कि कोरोना वायरस के दूसरे फेज , जो प्रथम फेज से अधिक घातक एवं जानलेवा है। ऐसे में जिलावासियों की स्वास्थ्य सुरक्षा व संक्रमण के रोकथाम , बचाव एवं संभावित प्रसार को रोकने के उद्देश्य से धार्मिक स्थल खुले रहेंगे परन्तु श्रद्धालुओं की उपस्थिति को प्रतिबंधित करने का निर्देश दिया है। इसके अलावे देवघर जिले में स्थित सभी धार्मिक स्थल बाबा बैद्यनाथ मंदिर सहित दिनांक -22.04.2021 के पूर्वाहन 6:00 बजे से 29.04.2021 तक के लिये आम श्रद्धालुओं के लिये बन्द रखने का आदेश दिया गया है। साथ ही जहाँ तक बाबा मंदिर में पारम्परिक पूजा प्रातःकालीन एवं संध्याकालीन श्रृंगार पूजा का प्रश्न है, तो वैसे में मंदिर प्रभारी सीमित संख्या में तीर्थपूरोहितों को कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन करते हुए 50 प्रतिशत क्षमता के साथ इस हेतु अनुमति प्रदान करेंगे। बाबा बैद्यनाथ मंदिर , देवघर में तीर्थ यात्रियों / भक्तों के प्रवेश को प्रतिबंधित करने के उद्देश्य से परिसर के पूर्वी , पश्चिमी एवं उत्तरी ( सिंह द्वार ) को बन्द करने का निर्णय लिया गया है। तीर्थ पूरोहितों ( पण्डा ) का प्रवेश मात्र प्रशासनिक भवन होकर शीघ्र दर्शनम् के लिए निर्धारित कोरिडोर से होकर होगा। पारम्परिक पूजा एवं श्रृंगार पूजा के दौरान सीमित संख्या में पण्डा / पुजारी का प्रवेश की अनुमति होगी परन्तु उन्हें मास्क के साथ - साथ सोसल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करना अनिवार्य होगा। इसके अलावे अनुमंडल पदाधिकारी , देवघर - सह - प्रभारी पदाधिकारी , बाबा बैद्यनाथ मंदिर , देवघर एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी , देवघर निदेशों का अनुपालन पूर्ण रूप से सुनिश्चित करायेगें एवं स्थिति का आकलन कर अपने स्तर से आवश्यक प्रतिनियुक्तियाँ भी करेगें। साथ ही परिसर के प्रशासनिक भवन के द्वार को छोड़कर अन्य सभी गेट को बन्द करने के लिए आवश्यकतानुसार बेरिकेडिंग का कार्य भी सुनिश्चित करायेंगे। वही दिनांक -29.04.2021 के पश्चात् के सरकारी निदेश के अनुरूप अग्रेतर आदेश निर्गत किया जायेगा। ऐसे में उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने पण्डा धर्मरक्षिणी सभा से अनुरोध करते हुए कहा है कि वे कोविड -19 के इस खतरनाक दौर में जनहित में जिला प्रशासन द्वारा की गई उपरोक्त व्यवस्था को लागू करने में आवश्यक सहयोग करेंगे।

No comments