धतुला गांव में 15वें वित्त आयोग की राशि से निर्मित सोलर जल मीनार खराब, ग्रामीणों को हो रही है काफी परेशानी



कुंडहित ( जामताड़ा ):प्रखंड क्षेत्र की भेलूआ पंचायत अन्तर्गत धतुला गांव में 15वें वित्त आयोग की राशि से निर्मित सोलर जलमीनार इन दिनों खराब पड़ी हुई है। खराब जलमीनार लोगों के लिए सफेद हाथी साबित हो रही है।बताते चलें कि धतुला गांव  मैं लगभग  डेढ़ सौ परिवार इसी जलमीनार पर  निर्भर है। लखीकांत गोराई, सुनित बाउरी,  भोलानाथ पाल, सुनील गोराई, भागीरथ खां, खमाकर पाल, कृष्ण पद माजी, रिंकू बाउरी, सुजाता गोराई, सुमति खां, नंदरानी गोराई समेत कई लोगों ने बताया कि पेयजल की समुचित व्यवस्था उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने 15वें वित्त आयोग की राशि से गत वर्ष ही वेंडर के माध्यम से जलमीनार लगवाई गई थी। पंचायत के मुखिया अनिता हेम्ब्रम ने तब जलमीनार बनने से लोगों को जल संकट से मुक्ति का भरोसा दिया था, लेकिन बीते छह माह से जलमीनार खराब पड़ी है। पंचायत प्रशासन या संबंधित विभाग इसकी सुध नहीं ले रहा है, जिससे लोगों को पीने के पानी के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि धतुला गांव मे पीने के पानी का एकमात्र साधन उक्त सोलर जलमीनार ही है। 

क्या कहते हैं भेलुवा पंचायत के पंचायत सचिव जानिए ?

भेलुवा पंचायत  के  पंचायत सचिव बासुदेव सिंह ने कहा कि ग्रामीणों द्वारा जल मीनार खराब होने की अभी तक कोई सूचना नहीं दी गई है । अब सूचना मिला है जल्द ही जल मीनार को मरम्मत  कर दिया जाएगा।

No comments