उपायुक्त ने जिलावासियों से कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को लेकर सावधानी और सतर्कता बरतने का आग्रह किया



उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री ने जिलावासियों से अपील करते हुए कहा है कि वर्तमान में एक बार फिर से कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा हैं। साथ ही देवघर जिला अंतर्गत कोरोना पोजेटिव मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। ऐसे में हम सभी को सतर्क, सजग और सावधान रहने की आवश्यकता है।

सबसे महत्वपूर्ण है कि घर से बाहर निकलते समय चेहरे और नाक को अच्छे से मास्क या रूमाल से ढंक कर रखें एवं एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के बीच दो से चार मीटर तक की दूरी बना कर रहें। इसके अलावे स्वच्छता पर विशेष ध्यान रखते हुए अपने हाथो को थोड़े समय के अंतराल पर साबुन या हैंडवॉश से अवश्य धोएं। कोरोना को लेकर साफ-सफाई का ध्यान रखते हुए बेवजह अपनी आंख, नाक या मुंह को हाथों से न छुएं। तंबाकू, गुटखा व धूम्रपान का उपयोग न करते हुए सार्वजनिक स्थानों पर न थूकें और दूसरों को भी ऐसा करने के लिए प्रेरित करें।

इसके अलावे उपायुक्त ने कहा कि कोरोना से डरने की जरूरत नहीं है, बस सावधान व सतर्क रहने की जरूरत है। एहतियात बरतते हुए स्वयं को एवं अपने परिवार को सुरक्षित रखें। इसके अलावा उनके द्वारा कहा गया कि कोई भी व्यक्ति किसी प्रकार के अफवाहों पर ध्यान न दे और न हीं घबराएँ या पैनिक हों। सभी लोग अपने स्तर से हरसंभव एहतियात बरतें, ताकि कोरोना के प्रसार पर रोक लगाया जा सके।

■ क्या हैं इससे बचाव के उपाय....

उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री द्वारा जानकारी दी गई कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस से बचने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं। इनके मुताबिक, हाथों को साबुन से धोना चाहिए। अल्कोहल आधारित हैंड रब का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। खांसते और छीकते समय नाक और मुंह रूमाल, टिशू पेपर या हाथ से ढककर रखें। साफ-सफाई के साथ मास्क या फेस कवर का उपयोग करें और जिन व्यक्तियों में कोल्ड और फ्लू के लक्षण हों उनसे दूरी बनाकर रखें।

कोई टिप्पणी नहीं