आजादी का अमृत महोत्सव " कार्यक्रम के तहत राजमहल में साईकिल रैली का हुआ आयोजन।



साहिबगंज संवाददाता :--उच्चतर शिक्षा विभाग, शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार के आलोक में देश के 75 वें स्वतंत्रता दिवस पर "आजादी का अमृत महोत्सव " कार्यक्रम के तहत राजमहल में साईकिल रैली एवं विमर्श गोष्ठी का आयोजन किया गया। राजमहल के ऐतिहासिक धरोहरों को संरक्षित रखने, पर्यावरण संरक्षण एवं आजादी के लिए अपने को शहीद करने वाले बलिदानियों को सच्ची श्रद्धांजलि देने हेतु प्रखंड कार्यालय परिसर से सिंघी दालान तक आयोजित कि गयी। इस साईकिल रैली को एसडीओ हरिवंश कुमार पंडित एवं एसडीपीओ अरविंद कुमार सिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। कार्यक्रम में डॉ रणजीत कुमार सिंह, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी उदय कुमार सिन्हा, नपं अध्यक्ष केताबुद्दीन शेख,नपं उपाध्यक्ष पार्थ कुमार दत्ता, थानाप्रभारी प्रणीत पटेल व लेखा सह कार्यक्रम सहायक  नेहरु युवा केंद्र संगठन साहेबगंज अवधेश जोशी की उपस्थिति में निकले साईकिल रैली में नपं अध्यक्ष केताबुद्दीन शेख, उपाध्यक्ष पार्थ कुमार दत्ता, वार्ड पार्षदगण अजय चौधरी, राजू सरकार, प्लस टू जे के उच्च विद्यालय, प्रोजेक्ट कन्या उच्च विद्यालय, तीन पहाड़ युवा क्लब, भैंस मारी युवा क्लब के सदस्यों व छात्र-छात्राओं ने प्रखंड परिसर से सिंघीदलान तक साईकिल चलाकर लोगों को जागरूक किया।

अनुमंडल पदाधिकारी का सम्बोधन:

अनुमंडल पदाधिकारी हरिवंश कुमार पंडित ने कहा कि आजादी हमें यूं ही खैरात में नहीं मिली है। हमें उन बलिदानियों को हमेशा याद रखना चाहिए, जिनकी कुर्बानी के बाद ही आज हम आजाद फिजां में सांस ले रहे हैं। विशिष्ट अतिथि एसडीपीओ अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि साईकिल रैली को महज एक रैली नहीं मानी जानी चाहिए। इसके उद्देश्यों को आत्मसात करना वर्तमान में काफी आवश्यक है।आजादी का महत्त्व हमें तभी दिखेगा जब हम बलिदानियों को याद करते हुए अपने आसपास मौजूद ऐतिहासिक धरोहरों, पर्यावरण को भी संरक्षित कर वन सुरक्षित रख सके। इस दौरान उन्होंने कहा कि राजमहल क्षेत्र में ऐतिहासिक स्थलों का आम आदमी इसको समझे जाने और उसकी सुरक्षा के लिए प्रयास करें, इसे स्वच्छ रखें एवं सरकार शासन के माध्यम से एक विश्वस्तरीय  विकसित पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करे, इसके लिए जनअभियान के तहत साईकिल रैली निकाली गई।मौके पर प्रो0रंजीत सिंह ने कहा कि राजमहल वासियों के लिए यह काफी गौरव की बात है कि राजमहल को आजादी के अमृत महोत्सव के आयोजन हेतु चयनित किया गया है। आज विश्व में राजमहल की पहाड़ियां, राजमहल के जीवाश्म सहित अनगिनत ऐतिहासिक व पुरातात्विक धरोहर विख्यात है। संथाल परगना में दुमका मलूटी और राजमहल को ही इस महोत्सव के लिए चयनित किया गया है। मौके पर प्रोजेक्ट कन्या उच्च विद्यालय की प्रधानाध्यापिका रीमा पाठक, प्लस टू जे के उच्च विद्यालय के प्रधानाध्यापक अरशद आलम, विनय टुडू, चंदन श्रीवास्तव, रवि कुमार सहित  छात्र-छात्राएं मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं