जल संचयन को लेकर भाजपा ने की बैठक



देवघर भारतीय जनता पार्टी देवघऱ नगर मंडल द्वारा  विश्व जल दिवस  के अवसर पर जल के संचयन एवं जल के खर्च पर चर्चा करने हेतु एक बैठक आयोजित किया गया । बैठक में मुख्य रूप से "कैच द रेन " पर सभी कार्यकर्ताओं द्वारा विचार विमर्श किया गया ।जल ही जीवन है ,जल है तो कल है । इसकी महत्ता पर सभी ने अपना अपना व्यक्त रखा बैठक में सबों ने स्वेच्छा से जल संचयन का संकल्प  लिया। गर्मी के शुरुआत में ही लगातार कई दिनों तक  नगर निगम द्वारा पेयजल की व्यवस्था भी  सुचारू रूप से नहीं की जा पा रही है ऐसे समय में जब अभी भीषण गर्मी आने को है  तब इसका क्या परिणाम क्या होगा ? यह सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है ,पानी की किल्लत को दूर करने के लिए पानी का व्यवसायीकरण बंद किया जाए । नगर निगम क्षेत्र में कई बहुमंजिला इमारतों में  निजी उपयोग के  लिए पाताल बोरिंग किया जा रहा है इस पर देवघर नगर निगम किसी भी प्रकार का अंकुश लगाने के बदले रिश्वत लेकर उन्हें और सुविधा देती है । जिससे अगल-बगल के जल स्रोतों में भारी गिरावट आ रही है। जहां नगर निगम आए दिन जल संकट को दूर करने के नाम पर बोरिंग कर अपना धन संचयन कर रही है। वही जल संचयन को दूर भगाने के  लिए अगल बगल के तालाब ,पोखर ,नदियों को संकुचित कर उन पर अन्य अन्य योजनाओं के तहत निर्माण कर धन कमाने में लगी हुई है । कार्यक्रम में मुख्य रूप से मनोज भार्गव ,समीर अंसारी ,प्रियेश गुंजन ,सागर झा ,मीना झा, निशा सिंह ,संध्या कुमारी ,जूनियर बाबूलाल मरांडी आदि उपस्थित थे । कार्यक्रम में उपस्थित सभी वक्ताओं ने एक मूस्त रूप से कहा की जमुना जोर नदी को यदि साफ सफाई कर ढंग से बना दिया जाए तो पानी की बहुत समस्या कम हो सकती है ।साथ ही अजय नदी ,दडबा नदी को भी यदि व्यवस्थित किया जाए तो पानी का संचयन हो सकता है ।मंदिर के अगल-बगल मानसरोवर पोखर का भी यदि साफ-सफाई कर जीर्णोद्धार किया जाए तो पानी संचयन का एक मुख्य स्थान हो सकता है ।शहर की सभी सरकारी तालाबों तथा कुओ को चिन्हित कर अतिक्रमण मुक्त कराकर यदि उनका जीर्णोद्धार किया जाए तो ही देवघर शहर को पानी दिया जा सकता है। देवघर नगर भाजपा आज के इस विश्व जल दिवस पर नगर निगम तथा इस संबंधित विभागों से आग्रह करती है कि  शहर को पानी देने के लिए प्रयास करें ना कि पानी देने के नाम पर अपने धन को बढ़ाने का प्रयास करने का नाटक करे।शहर में पानी की आपूर्ति होगी अथवा नहीं होगी इस संबंध में आवश्यक रूप से सभी समाचार पत्रों में सभी क्षेत्रों के विषय में दिन और समय के साथ सूचना देना सुनिश्चित करें विभाग,अन्यथा आने वाले दिनों में जिस प्रकार से देवघर नगर के लोग उद्वेलित हो रहे हैं इसका परिणाम विभाग के लिए बहुत ही विपरीत होगा ।

No comments