अनुमंडल कार्यालय सभागार में जिला खाद्य सुरक्षा विभाग के द्वारा खाद्य दुकानदारों का फूड लाइसेंसिंग व पंजीयन शिविर का आयोजन किया गया



मधुपुर । अनुमंडल कार्यालय सभागार में बुधवार को जिला खाद्य सुरक्षा विभाग ने  एक शिविर आयोजित कर खाद्य दुकानदारों का फूडलाइसेंसिंग व पंजीयन किया । मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी सह अभिहित पदाधिकारी योगेंद्र प्रसाद ने तकरीबन 26 खाद्य दुकानदारों का लाइसेंस व  पंजीकरण पत्र वितरण किया । मौके पर एसडीओ ने शिविर में आए खाद कारोबारियों को कहा कि पक्के खाद्य पदार्थों को खुला न रखें । हमेशा खाद्य पदार्थ को जाल अथवा मारकीन कपड़े में ढक कर रखें । रसोईघर का भंडार पर पूर्णता स्वच्छ व साफ-सुथरा रखें । बासी व दूषित खाना होटल में ना बेचने की अपील की । चाय दुकानदार चाय पत्ती का एक ही बार इस्तेमाल करें और बर्तन को साफ रखें । फल दुकानदारों को जूस अनार मौसमी फल को पहले नहीं काटने की बात कही । खाद्य कारोबारी अपने प्रतिष्ठान एवं व्यक्तिगत सफाई पर विशेष ध्यान दें । प्रत्येक प्रतिष्ठान पर ढक्कन युक्त कूड़ेदान का ही प्रयोग करें । उन्होंने भक्तों से अपील किया कि उन्हीं दुकानों से खाद्य पदार्थों का क्रय करें जिनके पास खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम 2006 के अंतर्गत लाइसेंस व पंजीयन उपलब्ध है I  उन्होंने कहा कि जांच के दौरान खाद कारोबारियों के पास लाइसेंस नहीं पाया जाने पर निरोधात्मक कार्रवाई की जा सकती है । इसके अलावा अधिकतम 5 लाख तक जुर्माना और 6 महीने की सजा का भी प्रावधान है ।  मौके  पर होटल, सब्जी विक्रेता, फल, किराना दुकानदार समेत खाद्य कारोबारियों ने फूडलाइसेंसिंग व पंजीकरण के लिए आवेदन जमा करने के लिए भीड़ लगी रही । मौके पर खाद्य सुरक्षा पदाधिकारी देवघर दिनेश मरांडी, सहायक उत्तम तिवारी आदि मौजूद थे ।

No comments