यूनाइटेड फोरम ऑफ यूनियन द्वारा दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी बैंक हड़ताल का असर मधुपुर में भी देखने को मिला



मधुपुर 15 मार्च: मधुपुर सार्वजनिक क्षेत्रों के बैंकों के निजीकरण का यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस द्वारा दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी बैंक हड़ताल का असर मधुपुर में भी दिखा जा रहा है और जिस कारण सुबह से ही बैंकों में ताला लटका हुआ है वही मधुपुर एसबीआई मैन ब्रांच के सामने सभी हड़ताली कर्मियों ने धरना दिया तथा अपनी मांगों के समर्थन में नारेबाजी की मौके पर केनरा बैंक कर्मी संजय  मुर्मू ने बताया कि बैंकों के निजीकरण की बात की गई है जिसके विरोध में सोमवार से हम लोग दो दिवसीय हड़ताल पर हैं और उन्होंने कहा  की  मंगलवार को  केनरा बैंक के सामने सुबह 10:00 बजे से धरना प्रदर्शन सभी बैंक कर्मी एकजुट होकर  करेंगे और आगे अगर सरकार अपना फैसला नहीं बदलती है तो हम लोग अनिश्चितकालीन हड़ताल पर भी चले जाएंगे। वहीं मधुपुर में बैंक ऑफ इंडिया, भारतीय स्टेट बैंक ,केनरा बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, पंजाब नेशनल बैंक सहित अन्य बैंक बंद होने से व्यापारियों समेत आम लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा बैंक बंद होने के कारण मायूस होना पड़ा आपको बता दें कि बैंक कर्मी हड़ताल पर चले जाने व बैंक बंद होने के कारण सोमवार को  लगभग 10 करोड़ों रुपए का लेन देन प्रभावित हुआ है। मौके पर सुनील कुमार, अविनाश कुमार, विवेक श्रीवास्तव, संगीत, हेमंत कुमार यादव, कौशल किशोर, अमित कुमार, कार्तिक दास, विनोद कुमार मालाकार, दिलीप ठाकुर, अजीत कुमार, दीपा कुमारी, श्वेता गुप्ता, रोशन, कार्तिक दास, संजय कुमार मुर्मु, विश्वास दा समेत बैंक कर्मी उपस्थित है!

कोई टिप्पणी नहीं