धूमधाम और उल्लास के साथ मनाया गया अंतराष्ट्रीय महिला दिवस



देवघर-स्थानीय नगर निगम भवन के परिसर में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस काफी हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।वहीं इस दौरान मौके पर जिला के विभिन्न प्रखण्डों से विभिन्न योजनाओं से जुड़े महिलाओं ने कार्यक्रम में शिरकत किया।कार्यक्रम में मुख्य रूप से स्वास्थ्य महक़मा के सहिया, सहिया साथी,आंगन बाड़ी सेविका,आजीविका सखी मण्डल की महिलाएं आदि मुख्य रूप से उपस्थित थीं।

कार्यक्रम का मुख्य उदेश्य था कि कन्या भ्रूण हत्या पर रोक के साथ साथ ,दहेज प्रथा के विरुद्ध विशेष शपथ ग्रहण का आयोजन किया गया और सभी को सचेत किया गया कि वे भ्रूण हत्या और दहेज प्रथा के ख़िलाफ़ आवाज उठाएं।

कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि जिला के उपायुक्त मंजू नाथ भजन्त्री भी मौजूद थे मौके पर उपायुक्त ने कार्यक्रम में पहुंची महिलाओं को सम्बोधित करते हुए कहा की आज इस ऐतिहासिक दिवस के अवसर पर पहुंची हमारी सेविका सहायिका बहनें सभी का स्वागत है।वहीं श्री भजन्त्री ने कार्यक्रम के समय को लेकर कहा कि बारह बजे का समय एक ऐसा समय होता है जब हम दिन में बदलाव देखते हैं।

वहीं भ्रूण हत्या पर बोलते हुए कहा कि स्कूलों से हमे इसकी सुरुवात करना होगा ताकि वहीं से लोग लड़का और लड़की में अंतर नहीं समझे।दहेज हत्या को रोकने के लिए सभी को मिलकर आगे आना होगा। वहीं लिंग में अंतर पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि देवघर जिला की हालत सबसे ज्यादा खराब है जैसी की ख़बर मिल रही है पड़ोस के जिला में जाकर लोग भ्रूण हत्या करवाते हैं।

वहीं उपायुक्त ने कहा कि जिला के सभी टेस्ट सेंटरों की जांच समय समय पर करना भी बहुत जरूरी है।वहीं सबो से आह्वान किया आइए आज सपथ लेते हुए एक नए दिशा की ओर आगे बढ़े।वहीं सभी लड़कियों से अपील किया जो दहेज मांगे वहां विवाह नहीं करना है और सबों ने मौके पर कन्या भ्रूण हत्या को रोकने की सपथ ग्रहण किया।

वहीं मौके अपने अपने कार्य क्षेत्रों में उत्कृष्ठ कार्य करने वाली महिलाओं को पुरष्कृत कर उनके मनोवल को बढ़ाया गया।कार्यक्रम के दौरान सर्व प्रथम पहुंची हुयी बालिकाओं के साथ उपायुक्त मंजू नाथ भजन्त्री ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।ज्ञात हो कि झारखण्ड में देवघर पहला जिला है जहां भ्रूण हत्या के रोकथाम के लिए सभी को सपथ दिलवाया गया।

वहीं कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपायुक्त मंजू नाथ भजन्त्री ,नगर आयुक्त शैलेन्द्र लाल,जिला शिक्षा पदाधिकारी,डीपीआरओ रवि कुमार,एपीआरओ रोहीत विद्यार्थी,निर्भय ओझा,पूजा वर्मा,सुधा,उपेन्द्र कुमार ,समाज कल्याण पदाधिकारी कनक कुमारी तिर्की ,सभी सीडीपीओ के अलावे सभी जिला के वरिय अधिकारी मौजूद थे।

No comments