गंगा की धारा सूखती नजर आ रही है




देवघर मधुपुर विधान सभा उप चुनाव में गंगा की धारा इस अब से ही सूखती दिख रही है। लोगो की माने तो भारतीय जनता पार्टी की टिकट मिलते ही एनडीए  प्रत्यासी गंगा नारायण सिंह का व्यवहार बदलता नजर आने लगा है। इधर आजसू पार्टी के जिला कमिटी ने भी एनडीए प्रत्यासी श्री गंगा का विरोध शुरू कर दिया है। आजसू मंगलवार को प्रत्यासी सिंह के नामांकन कार्यक्रम का भी वहिष्कार करेगी। इसकी जानकारी आजसू जिला अध्यक्ष ध्रुव प्रसाद साह ने पत्रकारों  से बातचीत करते हुए कहा कि एनडीए नेताओ का ऊपर ही ऊपर भले समझौता हो गया हो किन्तु जमीनी स्तर न तो पार्टी सुप्रीमो सुंदेश महतो का होर्डिंग- बैनर में फोटो दिख रहा है और न नामांकन में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है। अब ऐसी स्थिति में गत चुनाव में 45 हजार से अधिक वोट लानेवाले श्री गंगा अपनी धारा को बहा पाते है या घटक दलों के जमीनी विरोध के कारण बीच मे धार मंद पड़ जाती है। वैसी भाजपा के कुछ कार्यकर्ता पार्टी के विधायक राज्य के पूर्व कौशल विकास श्रम मंत्री राज पलिवार के टिकट काटे जाने से खासे नाराज नजर आते है। इन कार्यकर्ताओ की माने तो उनका मानना है कि पार्टी के समर्पित, कर्मठ और स्थापना काल से झोला ढोनेवाले को पार्टी टिकट काट दिया तो बाहरी उम्मीदवारों को वोट देकर क्या करेंगे। ऐसे कार्यकर्ताओ की गुपचुप बैठके भी चल रही है। इन कार्यकर्ताओ ने याद दिलाया कि 2009 में भी कुल लोगो के दबाब में पार्टी ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री विनोदानंद झा के पौर पौत्र संयुक्त बिहार के सिंचाई मंत्री कृष्णानन्द झा के पौत्र अभिषेकानन्द झा को भाजपा प्रत्याशी बनाया गया था, हश्र सामने था झामुमो प्रत्याशी हाजी हुसैन अंसारी की जीत हुई थी, कही वैसा ही परिणाम न आ जाए। अब समय पर ही पता चलेगा ऊंट किस करवट बैठता है ?

No comments