होली, सोबेबरात व उर्स को लेकर हुई शांति समिति की बैठक



सारठ : होली, सोबेबरात व उर्स मेला को लेकर सोमवार को थाना परिसर में एसडीओ योगेंद्र प्रसाद की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक हुई। बैठक में एसडीओ श्री प्रसाद ने कहा कि होली व सोबेबरात को हम सभी सौहार्द माहौल में मनायें। वहीं उर्स मेला के आयोजन को लेकर दो टूक कहा कि एक बार फिर कोरोना महामारी को लेकर सरकार का गाइड लाइन आया है, जिसमें किसी भी तरह के आयोजन में अधिकतम एक हजार लोगों को ही शामिल होने की अनुमति दी गई है। ऐसे में उर्स मेला में भीड़ नहीं हो, इसकी जिम्मेवारी उर्स मेला समिति की होगी। वहीं एसडीओ ने कहा कि मधुपुर उपचुनाव को लेकर पूरे जिले में आदर्श आचार संहिता भी लागू है, हमें   इसका भी ध्यान रखना है। वहीं बैठक में सीओ बलीराम मांझी ने कोरोना महामारी को लेकर विशेष एहतियात बरतते हुए सौहार्दपूर्ण माहौल में ही होली मनाने की अपील की। वहीं उर्स मेला को लेकर कहा कि वरीय अधिकारियों से मार्गदर्शन मिलने के बाद ही मेले के आयोजन पर अंतिम निर्णय लिया जायेगा। बैठक में मौजूद एसडीपीओ आमोद नारायण सिंह ने होली व उर्स मेला के दौरान विधि-व्यवस्था को लेकर कहा कि किसी भी सूरत में होली में हुड़दंग नहीं हो, इसके लिए पुलिस चौकस रहेगी, वहीं यदि उर्स मेला का आयोजन होता है तो उर्स मेला के लिए अतिरिक्त पुलिस की तैनाती की जायेगी। वहीं बीसीओ दिवाकर मिश्रा ने कहा कि कोरोना महामारी के साथ-साथ मधुपुर विधानसभा उपचुनाव को लेकर हर तरह के भीड़ पर रोक लगाने के लिए सामूहिक जिम्मेवारी लेने की भी जरूरत है। बैठक में पुलिस इंस्पेक्टर राजेश टुडू, थाना प्रभारी करुणा सिंह, मजार के खादिम मुजफ्फर शाह, मुखिया जय कुमार सिंह, अनिल राव, मो. जर्जिस अंसारी, अब्दुल अंसारी, पंसस समीउद्दीन मिर्जा, ईरानी शेख, भाजपा नेता संतोष तिवारी, झामुमो नेता सुरेंद्र रवानी, इश्तियाक मिर्जा, बसंत सिंह, सुभाष मंडल,  राजद नेता बिजय यादव, कांग्रेस नेता बालकिशोर राय, संजय मंडल, पूर्व मुखिया सदानंद पोद्दार, डॉ. अहिया, कलाम शेख, नरेश पंडित, समीम शेख आदि  मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं