बाल संरक्षण समिति पर एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का हुआ आयोजन |



नाला (जामताड़ा ) --  नाला प्रखंड सभागार में उमंग परियोजना के अंतर्गत जिला बाल संरक्षण इकाई एवं यूनिसेफ और जे.एस.एल.पी.एस एवं पी.सी.आई के संयुक्त तत्वावधान में एक दिवसीय बाल संरक्षण समिति पर उन्मुखीकरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया । कार्यक्रम का शुभारंभ प्रखंड विकास पदाधिकारी कौशल कुमार, अंचलाधिकारी सुनीता किस्कू, जेएसएलपीएस के बीपीएम गणेश महतो, पी.सी.आई उमंग परियोजना प्रबंधक अंकिता कशिश, संकुल सामाजिक कार्य सदस्य श्रीमति तापसी दास, तथा अन्य पदाधिकारियों द्वारा दीप प्रज्वलित करते हुए मुख्य उद्देश्य पर विस्तार पूर्वक चर्चा किया गया । इस क्रम में बीडीओ कौशल कुमार ने कस्तूरबा विद्यालय में नामांकन की प्रक्रिया, बाल विवाह के गंभीर दुष्परिणाम, ग्राम स्तरीय पुस्तकालय इत्यादि के बारे में विस्तारपूर्वक चर्चा की । कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर डी.सी.पी.ओ जामताड़ा अंजू पोद्दार, यूनिसेफ से दानिश कुमार एवं चाइल्ड लाईन के अधिकारी ने बाल समिति के महत्व, संरचना, भूमिका, सदस्य एवं उसके अंतर्गत मिलने वाली सुविधाएं पर चर्चा किया।

कार्यक्रम में नाला प्रखंड की सभी संकुल की सामाजिक कार्य समिति के सदस्य, संकुल के अध्यक्ष, सचिव, कोषाध्यक्ष, पी.आर.पी उपस्थित हुए। कार्यक्रम में मुख्य रूप से संकुल स्तरीय सामाजिक कार्य समिति के सदस्य एवं संकुल स्तरीय नेतृत्वकर्ता की मुख्य भूमिकाओं, ग्राम स्तरीय बाल संरक्षण समिति की नियमित मासिक बैठक सुनिश्चित कर सकते हैं, बाल विवाह एवं किशोरियों की शिक्षा से जुड़ी समस्या की पहचान कैसे करेंगे। कलस्टर से लेकर ग्राम संगठन एवं समूह स्तर पर हमारी भूमिका क्या -क्या होगी आदि बिन्दुओं पर चर्चा की गई | कार्यक्रम के अंत में BPM गणेश महतो ने सभी दीदियों का उत्साह बढ़ाते हुए उनकी खुद की भागीदारी सुनिश्चित करने तथा कोई भी समस्या आने पर सीधे संपर्क करने के लिए सभी दिदियों को कहा | मौके पर जेएसएलपीएस के दानिश अली , ब्लॉक मोबिलाइजर अनीता कुमारी , शालिनी कुमारी आदि पदाधिकारी एवं दिदियाँ मौजुद थी | 

कोई टिप्पणी नहीं