देवघर के कला संकाय में नेहरू युवा केंद्र के अंतर्गत कार्यरत मन की उड़ान युवा क्लब एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के संयुक्त तत्वाधान में यौन शोषण के खिलाफ लड़ाई का विश्व दिवस मनाया गया।



देवघर ए एस महाविद्यालय, देवघर के कला संकाय में नेहरू युवा केंद्र के अंतर्गत कार्यरत मन की उड़ान युवा क्लब एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के संयुक्त तत्वाधान में यौन शोषण के खिलाफ लड़ाई का विश्व दिवस मनाया गया। इस विचार गोष्ठी का शुभारंभ दीप प्रज्वलित कर एवं स्वामी विवेकानंद जी पर पुष्पांजलि अर्पित कर की गई । मौके पर, कार्यक्रम पदाधिकारी  भारती प्रसाद ने कहा कि यौन शोषण जैसे ज्वलंत मुद्दे पर युवाओं के बीच इस तरह की विचार गोष्ठी होना अपने आप में एक सकारात्मक कदम है क्योंकि जब युवाओं के विचार स्वस्थ होंगे तभी समाज भी सुधरेगा ।कारण ,यौन शोषण होना या इसका प्रयास करना जैसे अपराध का सीधा संबंध विचारों की अनैतिकता से है इसके लिए आवश्यक है कि एक ओर जहां नारी अपना विरोध दर्ज कराने की हिम्मत जुटाये, वहीं पुरुष समाज भी उनसे सम्मानपूर्वक व्यवहार करें।डॉ अरविंद कुमार झा ने कहा कि यौन शोषण के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए जरूरी है कि हम अपने अपने स्तर से समाज में नैतिक मूल्यों  को स्थिर करने में अपना भरपूर सहयोग दें एवं स्वयं में प्रेरणा बनने का प्रयास करें।

डॉ टी पी सिंह ने कहा कि यौन शोषण का मुद्दा समाज में भूत काल से ही चुनौती का विषय रहा है ।इसके लिए जरूरी है कि हम अपनी इच्छाओं पर नैतिकता का अंकुश लगाना सीख ले।

 डॉ किरण कुमारी ने इस अवसर पर कहा कि जरूरी है कि यौनशोषण के मुद्दे पर न सिर्फ लड़कियां बल्कि लड़के भी खुलकर आगे आए और स्वयं तो सजग रहे ही अपने आस-पास हो रही ऐसी घटनाओं के विरुद्ध भी खड़े होने की हिम्मत जुटायें। राष्ट्रपति अवार्डी राजेंद्र कुमार साव ने कहा कि जरूरत है कि समाज का पुरुष वर्ग हमेशा अपने आसपास उपस्थित नारी शक्ति के सम्मान एवं सुरक्षा पर विशेष ध्यान दें क्योंकि उन्हीं में मां, बहन और बेटी भी आती है।

मौके पर,जितेंद्र कुमार , मकसूद अंसारी, पंकज कुमार, प्रशांत कुमार, अंजली केसरी, मुकेश कुमार ,अंकित कुमार,  लवली , मुस्कान झा , स्नेह केसरी, रजनी, दिव्या रानी, अन्नू कुमारी ,पिंकी कुमारी, दिलीप कुमार ,अनामिका,कल्पना, अमित कुमार आदि भारी संख्या में छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।

No comments