विश्व कला दिवस पर नृत्यांगना चित्रांकन प्रतियोगिता



देवघर : विश्व कला दिवस के अवसर पर स्थानीय ओमसत्यम इंस्टीट्यूट ऑफ फ़िल्म, ड्रामा एंड फाइन आर्ट्स तथा विवेकानंद शैक्षणिक, सांस्कृतिक एवं क्रीड़ा संस्थान के युग्म बैनर तले ओपन टू ऑल ग्रुप के लिए नृत्यांगना चित्रांकन प्रतियोगिता रखी गई है। कोविड 19 को देखते हुए प्रतिभागिगण अपने घर से ही बनाकर 28 मार्च से 1 अप्रैल के बीच जमा करेंगे। इस प्रतियोगिता में देश के विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिभागिगण शिरकत करेंगे। विश्व कला दिवस के सन्दर्भ में ओमसत्यम इंस्टीट्यूट के निदेशक डॉ. प्रदीप कुमार सिंह देव ने कहा- हर साल 15 अप्रैल को कला के विकास, प्रचार-प्रसार और कला को बढ़ावा देने के लिए विश्व कला दिवस मनाया जाता है। विश्व कला दिवस ललित कलाओं का एक अंतरराष्ट्रीय उत्सव है जिसे अंतर्राष्ट्रीय संस्था ऑफ आर्ट द्वारा दुनिया भर में रचनात्मक गतिविधि के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए हर साल मनाया जाता है। इस दिन को एक स्वतंत्र और शांतिपूर्ण दुनिया बनाने के लिए कला को बढ़ावा देना एक माध्यम के रूप में भी मनाया जाता है क्योंकि यह कलात्मक अभिव्यक्तियों की विविधता के बारे में अधिक जागरूकता को प्रोत्साहित करता है और स्थायी विकास के लिए कलाकारों की भूमिका को भी उजागर करता है। विश्व कला दिवस के अवसर पर, यूनेस्को सभी को कार्यशालाओं, सम्मेलनों, वाद-विवाद, सांस्कृतिक कार्यक्रमों और प्रस्तुतियों या प्रदर्शनियों जैसी विभिन्न गतिविधियों में शामिल होने और इसमें भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करता है।

No comments