चुनाव के तिथि की घोषणा होते ही प्रत्यासी पकड़ने लगे रेस ,17ह अप्रैल को होगा मधुपुर में मतदान



देवघर-मधुपुर उपचुनाव के तिथि की घोषणा होते ही सभी दलों के नेताओं ने रेस पकड़ लिया है मधुपुर बाजार के हर चौक चौराहों में राजनीतिक गतिविधियां और सरगर्मियां दोनों तेज हो गयी हैं ।हर चाय की दुकान पर जीत हार की चर्चाओं का दौर भी शुरू हो गया है वैसे झारखंड मुक्ति मोर्चा और महागठबंधन के प्रत्याशी की घोषणा तय मानी जा रही है।

वहीं भाजपा के टिकट की घोषणा नहीं होने से कार्यकर्ताओं और मतदाताओं में अभी भी उहा पोह की स्थिति बनी हुई है।बहरहाल जेएमएम,और गंगा नारायण सिंह का चुनाव लड़ना तय माना जा रहा है बतौर गंगा नारायण सिंह वे हर अवस्था मे चुनाव लड़ेंगे और इसके लिए विते कई वर्षों से लगातार क्षेत्र की जनता से जनसम्पर्क करने औऱ उनके दुख सुख में लगातार सामिल भी हो रहे हैं।

सूत्रों की मानें तो एक राष्ट्रीय दल के कई कार्यकर्ता लगातार इनके सम्पर्क में है और चुनाव में मदद करने के लिए आतुर भी दिख रहे हैं।वैसे चुनाव की तिथि 17 अप्रैल को निर्धारित किया गया है कुल मिलाकर घोषणा के बाद समय का कम होना भी प्रत्यासियों को रेस पकड़ाने के लिए काफ़ी है।बहरहाल मधुपुर विधानसभा की जनता ने अपना मन बनालिया होगा कि इस दफ़ा मधुपुर की बाग डोर किनके हांथों में देना है वैसे मसक्कत तो हर प्रत्यासियों को अपने जीत के लिए करना ही होगा।

वहीं मधुपुर डालमिया कूप के निकट चर्चा करते लोगों की माने तो बाबू अभी बहुत खेल बाकी है इस बार मतदाता बहुत चुप चुप हैं किसी के विषय मे कुछ नहीं कह रहे हैं। पर सुदूर ग्रामीण वासियों ने तो मन बना लिया है इस दफा कोई नया चेहरा दिखेगा।बहरहाल जीत हार का निर्णय वर्तमान में भविष्य के गर्भ में समाहित है और चुनाव के रिजल्ट के बाद आगामी 2 मई को ही यह धुंध छटेगी।

No comments