विधिक सेवा सह सशक्तिकरण शिविर का हुआ आयोजन



साहिबगंज संवाददाता:--शहर के पोखरिया स्थित टाउन हॉल में शनिवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकार साहिबगंज द्वारा विधिक सेवा सशक्तिकरण शिविर का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में सर्वप्रथम प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश कौशल कुमार शुक्ला उपायुक्त रामनिवास यादव ,पुलिस अधीक्षक अनुरंजन किस्पोट्टा, वन प्रमंडल पदाधिकारी  मनीष तिवारी, उप विकास आयुक्त,डालसा के सचिव अधिवक्ता संघ के सचिव, नगर परिषद के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।जिसके बाद

कार्यक्रम में प्रधान जिला सत्र न्यायाधीश कौशल कुमार शुक्ला ने नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा विधिक जागरूकता शिविर का उद्देश्य है की विभिन्न प्रखंड व पंचायतों में समाज के अंतिम व्यक्ति तक न्याय पहुंचे एवं इस दिशा में कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस अभियान के माध्यम से समाज के निर्धन एवं जरूरतमंद लोगों को काफी मदद मिलेगी उन्होंने कहा की महिलाओं से संबंधित कानूनी प्रावधानों और बच्चों के अधिकारों से संबंधित महत्वपूर्ण कानूनी जानकारी भी दी जा रही है।अपने संबोधन में उन्होंने सामाजिक न्याय पर विशेष जोर देते हुए कहा कि प्राधिकार का उद्देश्य सिर्फ न्याय दिलाने तक समिति नहीं रहा, बल्कि वैसे सभी लोगों को न्याय दिलाना है जो अपने अधिकारों से वंचित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में अपने उत्थान के लिए सभी को सशक्त होने की आवश्यकता है। इसके अलावा सरकार की लोक जन कल्याणकारी योजनाओं का प्रचार-प्रसार कर सुदूरवर्ती क्षेत्रों के लाभुकों को योजनाओं से जोड़ कर उन्हें लाभांवित करने की आवश्यकता है।वहीं

कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त रामनिवास यादव ने अपने संबोधन में सर्वप्रथम प्रधान जिला  सत्र न्यायाधीश,डालसा के सचिव,अधिवक्ता संघ के सचिव, मंच पर उपस्थित सभी गणमान्य एवं माताएं,बहनों एवं किसानों को धन्यवाद देते हुए कहा कि भारतीय संविधान के द्वारा हमें कई प्रावधान एवं अधिकार दिए गए हैं। उन्होंने कहा हमारे अधिकारों के साथ-साथ हमें एक दायित्व भी दिया गया है। इन अधिकारों में छिपा यह दायित्व हमें सिखाता है कि हम कानूनों का कैसे पालन करें, कानून व्यवस्था बनाए रखने में क्या सहयोग दें,  एवं हमारी बेहतरी के लिए बनाए गए कानूनों का सम्मान करें।उन्होंने आम नागरिकों से कहा कि हमारे दायित्वों का निर्वहन कर अपने अधिकारों को जाने इसी उद्देश्य से आज जिला विधिक सेवा प्राधिकार के अंतर्गत विधिक सेवा सह शाश्कितकरण शिविर का आयोजन किया गया है। यह जिले के सभी प्रखंड एवं पंचायत स्तर पर भी आयोजित किया जा रहा है जिसके जरिए आम नागरिक कानूनी प्राधिकार जान सकेंगे एवं अधिकारों के हनन से बच सकेंगे।

इस दौरान उपायुक्त ने जानकारी देते हुए बताया कि अनुसूचित जाति एवं जनजाति की बेहतरी के लिए झारखंड सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत 100% अलॉटमेंट दिया गया है। जिससे आने वाले वित्तीय वर्ष तक सभी योग्य लाभुकों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ निश्चित रूप से दिया जाएगा।वही मनरेगा के तहत आवेदन करने वाले किसी भी व्यक्ति को मनरेगा के अंतर्गत जवाब तो दिया ही जाएगा .साथ ही साथ 7 दिनों के भीतर उन्हें उनकी मजदूरी सीधे अकाउंट में मिल रही है ताकि समाज कल्याण के द्वारा कई पेंशन योजनाएं चलाई जा रही हैं। जिसका लाभ योग्य लाभुक ले सकते हैं तथा इसकी जानकारी सरकारी स्टाल के माध्यम से भी दी जा रही है। झारखंड सरकार द्वारा  ₹50000 तक की ऋण माफी योजना के तहत किसानों का डेटाबेस भी तैयार कर लिया गया है। जिसमें 50000 तक की ऋण माफी की जाएगी।

पुलिस अधीक्षक ने भी कार्यक्रम में आम नागरिकों को संबोधित करते हुए उनके कानूनी अधिकारों से संबंधित जानकारी दी एवं बताया कि प्राकृतिक न्याय व्यवस्था के तहत किसी भी किसी भी दोषी को सजा दी जाती है।

उन्होंने कहा कि अगर आपके साथ कोई क्राइम या अन्याय हुआ है तो आप एफ आई आर दर्ज कराएं एवं संबंधित थाना को इसकी जानकारी दें ताकि आप को न्याय मिल सके।उन्होंने नागरिकों से कहा कि आप अपने कानूनों के प्रति जागरूक हो एवं कानून का दुरुपयोग ना करें साथ ही उन्होंने बताया कि दाल सा के तहत वैसे लोग जो कानूनी प्रक्रिया के दौरान अधिवक्ता अफोर्ड नहीं कर सकते हैं उन्हें डालसा के द्वारा वकील उपलब्ध कराया जाता है कि वह आगे की कानूनी कार्रवाई कर सकें।इसके अलावा उन्होंने महिला सशक्तिकरण के विषय में बताया कि महिलाओं को भी अपने अधिकार जानने की आवश्यकता है।डालसा के सचिव मनोरंजन कुमार ने लोगों को बताया कि इस शिविर के माध्यम से आप सभी अपने कानूनी अधिकार जान सकते हैं। साथ ही साथ प्रावधानों की जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं। इस प्रांगण में विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं से संबंधित स्टाल भी लगाए गए हैं जिन सस्टालों में आम नागरिक विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।उन्होंने जनता से कहा कि ऐसे कई मौके आते हैं जब आम नागरिकों को अपने अधिकारों के विषय में जानकारी नहीं होती है इसलिए डाल सा का उद्देश्य है कि आम नागरिकों तक उनके अधिकारों से निहित जानकारी मिले एवं वह प्रावधानों को जाने।कार्यक्रम में  उप विकास आयुक्त प्रभात कुमार बरदियार,अधिवक्ता संघ के सचिव प्रेम नाथ तिवारी, नगर परिषद अध्यक्ष श्रीनिवास यादव, नगर परिषद के उपाध्यक्ष, जिले के वरीय पदाधिकारीगण जिले के कर्मी प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के बंधुगण एवं अन्य उपस्थित थे।

No comments