कृष्ण सुदामा प्रसंग के साथ सात दिवसीय भागवत कथा की हुयी पूर्णाहुति



देवघर-सारठ प्रखण्ड अंतर्गत राय बाड़ी में चल रहे भागवत कथा के सातवें और पूर्णाहुति के दिन श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी थी वहीं आखरी दिन सांडिल्य जी महाराज से कृष्ण सुदामा के प्रसंग सुनकर सभी श्रद्धालु भाव विभोर हो गए।

वही इस दौरान मौके पर पहुंचे श्रद्धालुओं को संध्या आरती और कथा के पूर्णाहुति के बाद भगवान को चढ़ाया भोग प्रसाद का वितरण किया गया।

आरती के दौरान भक्त अविरल चल रही संगीतमय भजन पर झूमने से अपने आप को नहीं रोक सके।बहरहाल इस सात दिवसीय भागवत कथा के बाद जन मानस में एक नई ऊर्जा का संचार दिख रहा है और लोग अब कोबिड19 के भयावह दौर से मुक्त होकर पुनः अपने रोजी रोजगार की ओर निकलने की तैयारी में है।वहीं बतौर यजमान दिलीप झा और पत्नी शुषमा झा ने इस आयोजन में पूरे विधि विधान से सातों दिन नियम पूर्वक न्यास गद्दी की पूजा अर्चना कर ग्रामवासियों के लिए मंगल कामना किया।

पूरे इस सात दिवसिय आयोजन को सफल बनाने के लिए समिति के सदस्य भोपाल प्रसाद,पवन कुमार सिन्हा,सुरेंद्र रवानी,मिथलेश सिन्हा,राजेन्द्र झा,छोटू सिंह,केटु झा,राजेश राजहंस,रिंकु गुप्ता,पवन चन्द्र वंशी,सायकिल मण्डल,सोनू राऊत,पंकज वर्मा,लालू मण्डल,रामदेव साह,गौतम दे,बबलू राऊत,शिबू मण्डल सहित सभी सदस्यों ने अपनी महती भूमिका निभाई।

No comments