लड़कियों की शिक्षा सुनिश्चित करने को लेकर टोले मोहल्ले में चलेगा सक्षम बिटिया अभियान



उधवा संवाददाता:-- कोविड-19 महामारी काल में पढ़ाई पूर्ण रूप से बाधित रही, जिसका सबसे ज्यादा असर बेटियों पर हुआ। इन बच्चियों को फिर से मुख्यधारा से जोड़ने के लिए सक्षम बिटिया अभियान कार्यक्रम के तहत जिले के उधवा प्रखंड में फिर से बच्चों की पढाई में रूचि बढ़ाई जाएगी। इसको लेकर समेकित बाल विकास परियोजना कार्यालय उधवा में पीरामल फाउंडेशन की ओर से गुरुवार को लेडिज सुपरवाइजर और सेविका के साथ बैठक का आयोजन किया गया ।जिसमें "सक्षम बिटिया अभियान" के बारे में विस्तृत चर्चा की गई। पीरामल फाउंडेशन के प्रखंड समन्वयक मो. अहलुल्लाह ने कहा कि बच्चियों को फिर से मुख्य धारा से जोड़ने एवं पढ़ाई में रुचि बढ़ाने के लिए "सक्षम बिटिया अभियान" की शुरुआत की गई है। इसमें 12 वीं पास कर चुके एवं 18 वर्ष से अधिक उम्र के महिला स्वयंसेवक की सहायता से बच्चियों को कविता , नाटक, चित्रकला ,खेल - कूद के माध्यम से पढाई के साथ - साथ व्यवहारिक ज्ञान भी दिया जा रहा है। अभी तक 7 स्वयंसेवक की मदद से प्राणपुर दियारा, जोंका, पिलघुटु, पियारपुर की लगभग 245 बच्चियों को शिक्षा दी जा रही है। ज्यादा से ज्यादा बच्चियों को शिक्षा देने के लिए और स्वयंसेवक की आवश्यकता है। इक्षुक युवा अभियान से जुड़ने और विस्तृत जानकारी के लिए 9113438858 नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। अंत में सेविकाओं ने 12 वीं पास कर चुके और 18 साल से अधिक उम्र के इक्षुक महिला स्वयंसेवक का नाम सिफारिश किया और सेक्टर 1, 5, 6 की लेडीज सुपरवाइजर ललिता कुमारी ने अभियान को सफल बनाने के लिए हर संभव प्रयास और मदद करने की बात कही। इस अवसर पर सेक्टर 2,8,9 की लेडिज सुपरवाइजर भारती कुमारी, सेक्टर 3,4,7 की लेडिज सुपरवाइजर गायत्री कुमारी आदि मौजूद थी ।

No comments