कृषि भूमि के आस पास स्थापित क्रशर प्लांट मेड़बंदी या बोल्डर कर करें डस्ट की व्यवस्था उपायुक्त



साहिबगंज संवाददाता:-- उपायुक्त राम निवास यादव की अध्यक्षता में उनके कार्यालय प्रकोष्ठ में  जिला खनन टाॅस्क फोर्स की बैठक आयोजित की गयी।बैठक मे उपायुक्त श्री यादव द्वारा पत्थर खनन,पत्थर ढुलाई, बंदोबस्ती की जानकारी ली गयी। इस दौरान उन्होंने अवैध खनन, गाड़ियों द्वारा अवैध ढुलाई पर अंकुश लगाने के लिए की जा रही छापेमारी,प्रावधानों का उलंघन कर रहें क्रशर यूनिट पर की गयी कार्रवाई,प्रथमिकी दर्ज़ किये गाये अवैध पत्थर ढुलाई में लिप्त नावों, कितने सीटीओ तथा लाइसेंस रद्द किये गए हैं आदि की जानकारी ली।बैठक में उपायुक्त ने खनन विभाग एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को पूर्व में सभी क्रशर का सर्वे करने से संबंधित अनुपालन की समीक्षा की। बैठक में उपायुक्त ने जिला खनन फ़ोर्स को रिहायशी क्षेत्रों में स्थापित क्रशर प्लांट को 15 दिनों के भीतर बंद कराने का निर्देश दिया।वहीं उन्होंने कहा कि वैसे क्रशर जो शहर के रिहायशी इलाकों में है एवं इस कारण शहर में आए दिन प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है। तथा इसके कारण आम जन जीवन भी प्रभावित हो रहा है।बैठक के दौरान उपायुक्त ने कृषि भूमि के आसपास स्थापित क्रशर प्लांट की जानकारी ली एवं क्रशर मालिकों को नोटिस देकर उन्हें डस्ट की व्यवस्था करने को कहा। उन्होंने कहा की क्रशर प्लांट को नोटिस दें कि वह कृषि भूमि के आस पास स्थापित क्रशर प्लांट में मेड़बंदी या बोल्डर करें। तथा यह सुनिश्चित करें की उनके क्रशर का डस्ट बहाव के साथ कृषि भूमि में ना आए।

इसके अलावा बैठक में पानी के नेचुरल फ्लो वाले रास्ते में क्रशर मालिकों द्वारा पाइप लनागे का भी निर्णय लिया गया। उन्होंने कहा की वेट लैंड को यथावत बनाए रखने हेतु आवश्यक है की नेचुरल फ्लोर बना रहे एवं नेचुरल फ्लोर वाले रास्ते पर किसी भी प्रकार का व्यवधान न हो।

उपायुक्त ने बैठक में वैसे वाहनों जो पत्थर ढुलाई के दौरान गाड़ियों में त्रिपाल ढंक कर नहीं रखते हैं उन्हें पर्यावरण प्रदूषण से संबंधित प्रावधान का उल्लंघन करने पर प्रावधान के अंतर्गत की गई कार्रवाई एवं उनका चालान काटने की समीक्षा की तथा आवश्यक निर्देश दिए। उपायुक्त ने शहर में होने वाले पत्थर लोडिंग को तत्काल बंद करने का निर्देश दिया था जिसके अनुपालन एवं प्रगति की समीक्षा की गई।

इसके अलावा बैठक में उपायुक्त ने वैसे प्लांट जिनका सीटीओ पुराना हो चुका है एवं बिना सीटीओ वाले क्रशर प्लांट में विद्युत आपूर्ति बंद करने हेतु की गई कार्यवाई कि समीक्षा भी की।बैठक के दौरान उपायुक्त रामनिवास यादव ने निर्देश दिया कि वैसे चिमनी भट्टियों पर ऐड करें जहां बाल श्रम कराया जा रहा है। एवं संबंधित प्रावधानों के तहत उन पर सख्त कार्रवाई करें। बैठक में ,पुलिस अधीक्षक अनुरंजन किस्पोट्टा, वन प्रमंडल पदाधिकारी मनीष तिवारी,अनुमंडल पदाधिकारी साहिबगंज पंकज कुमार साव, अनुमंडल पदाधिकारी राजमहल हरिवंश पंडित, पुलिस उपाधीक्षक विजय आशीष कुजूर,जिला खनन पदाधिकारी विभूति कुमार, एसडीपीओ,आरओ प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सदस्य एवं अन्य उपस्थित थे।

No comments